आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन क्या है जाने इसके बारे में 

0
94
Ayushman Bharat Digital Mission

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि देश के प्रधानमंत्री द्वारा डिजिटल इंडिया मिशन का शुभारंभ किया गया था जिसके अंतर्गत लोग को डिजिटल बनाने के लिए सरकार ने इस योजना का आरंभ किया था आपको बता दें कि सरकार हेल्थ सेक्टर में भी डिजिटलाइजेशन करने के लिए काम करेगी जिसके लिए सरकार ने आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन का आरंभ किया इस मिशन के तहत देश के नागरिकों को स्वास्थ्य के कार्ड को तैयार किया जाएगा जिसके द्वारा नागरिकों को दवाइयों का उपचार आसानी से मिल पाएगा आयुष्मान भारत इसमें आप कैसे अप्लाई कर सकते हैं इसके बारे में आपको विस्तार बताएं तो चलिए आपको उसके बारे में बताते हैं.

आयुष्मान भारत की स्वास्थ्य मिशन कब शुरू हुआ

आपको बता दें कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा यह मिशन 15 अगस्त को लांच हुआ जिसके तहत देश के 6 केंद्र शासित प्रदेशों मिशन कार्ड का आरंभ किया गया आपको बता दें कि 27 सितंबर तक इस योजना पूर देश के लिए आरंभ कर दिया गया इस योजना के तहत देश के नागरिकों स्वास्थ्य कार्ड का डाटाबेस तैयार किया जाएगा जिसके द्वारा नागरिकों को एक हेल्थ आईडी कार्ड दिया जाएगा इस हेल्थ आईडी कार्ड में नागरिकों का डाटाबेस होगा।

इसके तहत लोगों के बीमारी का डेटाबेस तैयार होगा जब भी उन्हें को बीमारी होगी वह हॉस्पिटल में भर्ती होंगे तो डॉक्टर की सलाह से उनकी आईडी खोल कर उनकी पुरानी बीमारी के बारे में सभी जानकारी प्राप्त करके इसका इलाज शुरू कर सकता है। 

यदि कोई व्यक्ति ऑनलाइन भी किसी डॉक्टर से परामर्श लेना चाहता है तो इसके द्वारा वह ऑनलाइन डॉक्टर को परामर्श लेकर दवाई ले सकता है इसका में मकसद है कि लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं में जल्दी से जल्दी प्राप्त हो सके इसलिए इस योजना की शुरुआत की गई। 

Also Read: AWS ka Full Form Kya Hai? -In Hindi- What is the Full Form of AWS?

एन एच ए NHA द्वारा किया गया है लॉन्च आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन

आपको बता दें कि नेशनल हेल्थ अथॉरिटी द्वारा आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के अंतर्गत एक पब्लिक डैशबोर्ड लॉन्च किया गया है जिसके तहत सभी real-time इंफॉर्मेशन प्राप्त की जा सकती है डैशबोर्ड के द्वारा यह समान भारत हेल्थ अकाउंट नंबर,हेल्थ केयर प्रोफेशनल रजिस्ट्री ऑफ हेल्थ फैसिलिटी देखी जा सकती है ,इसे सभी प्रकार के पब्लिक डैशबोर्ड कर सकते हैं इसके द्वारा जानकारी प्राप्त हो सकती है जिसके तहत मरीजों का इलाज किया जा सकता है। इस योजना को सफलतापूर्वक लोगों द्वारा प्राप्त करने के बाद उनको प्राप्त करना शुरू किया जा सकता है पारदर्शिता आएगी और के आधार पर होगी जानकारी दी जाएगी इसके अलावा लगभग आभा अप्प को अभी लगभग 500000 लोगो ने डाउनलोड कर लिया है। 

आयुष्मान भारत मिशन मिशन के द्वारा अब तक 21 करोड़ से अधिक लोगों के बन चुके हैं स्वास्थ आईडी कार्ड 

आपको बता दें कि आसमान भारत डिस्टेंस स्वास्थ्य मिशन के तहत अब तक 21 करोड़ लोगों के आयुष्मान भारत स्वास्थ्य आईडी बन चुकी है जिसके तहत लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं दी जाएंगी। बात की जाए केंद्रीय मंत्री स्वास्थ्य डॉ मनसुख ने इस योजना को 15 मई 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य लिया है इस योजना के तहत 53341स्वास्थ्य सुविधाएं रजिस्टर करवाए जाएंगे जिसके तहत 11677 से अधिक स्वास्थ्य सेवा रखने वाले का रजिस्ट्रेशन करवाया जाएगा स्वास्थ्य सेवा में तेजी से बदलाव आएगा और जीवन में स्वास्थ्य विभाग से डिजिटल करने पर फोकस किया जाएगा। स्वास्थ्य सुविधाओं का ढांचा बदलने है जिसके तहत उन्होंने अब तक 40 से अधिक डिजिटल स्वास्थ्य सेवाओं को योजना के अंतर्गत शामिल किया है, जिसके द्वारा नागरिकों को सीधा लाभ पहुंचा जा सके इसके अलावा ऑनलाइन डॉक्टर से सलाह लेने की अनुमति से उपलब्ध करवाएगी सरकार।

इस मिशन में जोडे जाएंगे 40 से अधिक स्वास्थ्य सेवाएं 

आपको बता दें कि अब तक 13 से अधिक स्वास्थ्य सेवाएं 3 महीने में जोड़ी जा चुकी है बाकी बाकी 40 स्वास्थ्य सेवाओं को जोड़े जाने की प्रक्रिया चल रही है जिसके तहत आयुष्मान भारत मिशन के तहत इसमें लगभग 16 सरकारी और 24 प्राइवेट सेक्टर शामिल होगी जिसके तहत आपको इसकी सुविधाएं दी जाएंगी।

Also Read: B.Tech ka Full Form Kya Hai? -In Hindi- What is the Full Form of B.Tech?

मेडिकल हिस्ट्री अनुमति के द्वारा ही की जा सकती है एक्सेस

आपको बता दें यदि आपको कोई बीमारी है आप इलाज कराने गए हैं डॉक्टर आपसे हेल्थ कार्ड आईडी पूछता है तो सबसे पहले आपको उस आईडी को एक्सेस करने से पहले डॉक्टर को ओटीपी की आवश्यकता पड़ेगी तो ओटीपी के बिना है आपके मेडिकल हिस्ट्री देख नहीं सकता।

इस आईडी के माध्यम से आपका डोकरा रिपोर्ट देखेगा किसी भी हेल्थ सेक्टर को जानकारी करने के लिएआप को ओटीपी आवश्कता पड़ेगी जिसका मतलब है कि आप की अनुमति के बिना आपका मेडिकल डाटा कोई भी देख नहीं सकेगा आप अपने आयुष्मान भारत है उसका अकाउंट कार्ड को डाउनलोड भी कर सकते हैं इसके लिए आप इस कार्ड में एक क्यूआर कोड होता है जिसके स्कैन करके ओटीपी वेरिफिकेशन के बाद सारा रिकार्ड आप देख सकते हैं ,इसके अलावा इस कार्ड में लोकेशन फैमिली सभी जानकारी प्राप्त हो सकेंगे जिसके द्वारा मरीज को एक से दूसरे शहर ले जाना और भी आसान होगा,

आयुष्मान भारत कार्ड के लिए कैसे कर सकते हैं अप्लाई 

आपको बता दिए आप इसके लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के तहत अपना नाम देखना होगा यदि आपका नाम इस लिस्ट में नहीं है तो आप इसके लिए आपका अपना नाम ऐड करवाना होगा तभी आप इस लिस्ट में ऐड हो सकते हैं इसके अलावा डिजिटल मिशन के तहत आभा नाम कि अप्प के द्वारा भी इस में अपना नाम दर्ज करवा सकते हैं जिससे कि आपको सभी स्वास्थ्य सेवाएं में दी जाएंगी। अभी आभा है के द्वारा अपना नाम दर्ज कराने के लिए आपको नाम ,आधार ,कार्ड फोन नंबर इत्यादि की आवश्यकता है. और आपका डिजिटल स्वास्थ्य कार्ड आसानी से बन जाएगा।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते हैं धन्यवाद

Also Read: SMS ka Full Form Kya Hai? -In Hindi- What is the Full Form of SMS?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here