Saturday, August 13, 2022
Homefull formsClerk का फुल फॉर्म क्या होता है ?

Clerk का फुल फॉर्म क्या होता है ?

आज हम बात करेंगे Clerk क्या होता है,IClerk का फुल फॉर्म क्या होता है, Clerk को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

Clerk का फुल फॉर्म

क्लर्क का फुल फॉर्म Computerized Law Enforcement Record Keeping . हिंदी में इसेकम्प्यूटरीकृत कानून प्रवर्तन रिकॉर्ड कीपिंग कहा जाता है.

Clerk क्या होता है?

सरकारी या निजी नौकरियों में कागजी कार्य के लिए लिपिकों की नियुक्ति की जाती है, एक कार्यालय में एक या एक से अधिक लिपिक हो सकते हैं, यह संख्या कार्यालय में काम के बोझ पर निर्धारित की जाती है। लिपिक के रूप में सभी प्रकार की रिपोर्ट तैयार की जाती है। रिपोर्ट तैयार होने के बाद आपको अपनी रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को देनी होगी, कार्यालय के अनुसार कार्य का रूप भिन्न हो सकता है। किसी भी संस्थान में लिखित कार्य के साथ-साथ संस्थान द्वारा प्रदान की जा रही सेवाओं को प्रदान करने का कार्य करने वाले व्यक्ति को लिपिक कहा जाता है। एक लिपिक के रूप में उसके कार्य से संबंधित सभी प्रकार की रिपोर्ट बनाई जाती है और उसके उच्च अधिकारी को सौंपी जाती है, इस रिपोर्ट के आधार पर उच्च अधिकारी अपना निर्णय लेते हैं।

Read More: OCR ka Full Form Kya Hai

क्लर्क कैसे बने?

क्लर्क बनने के लिए संस्थानों द्वारा परीक्षा आयोजित की जाती है, जिसमें सफल होने के बाद आप उस संस्थान में क्लर्क के रूप में काम कर सकते हैं। यदि आप सरकारी विभाग में शामिल होना चाहते हैं, तो समय-समय पर क्लर्क के पदों के लिए विज्ञापन जारी किया जाता है। आप इस विज्ञापन के अनुसार आवेदन करके सरकारी विभाग में शामिल हो सकते हैं। क्लर्क का पद लगभग सभी विभागों में उपलब्ध है।

केंद्र सरकार के विभागों में चयन के लिए कर्मचारी चयन आयोग द्वारा परीक्षा आयोजित की जाती है। राज्य सरकार के विभागों में क्लर्क के पदों के लिए परीक्षा राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाती है। कुछ विभाग अपनी स्वयं की क्लर्क परीक्षा आयोजित करके पदों को भरते हैं।

बैंक में क्लर्क बनने के लिए आईबीपीएस और एसबीआई द्वारा परीक्षा आयोजित की जाती है। इनके द्वारा आयोजित परीक्षा में भाग लेकर आप बैंक में क्लर्क बन सकते हैं।

भारतीय रेलवे में क्लर्क के पदों के लिए समय-समय पर विज्ञापन भी जारी किया जाता है, आप निर्धारित तिथि में आवेदन करके परीक्षा में सफल होने के बाद रेलवे में शामिल हो सकते हैं।

क्लर्क के लिए योग्यता

कर्मचारी चयन आयोग द्वारा इंटरमीडिएट और स्नातक स्तर की परीक्षा आयोजित की जाती है, आप योग्यता के अनुसार परीक्षा में भाग ले सकते हैं। बैंक में क्लर्क के पद के लिए स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। रेलवे में क्लर्क बनने के लिए योग्यता इंटरमीडिएट है लेकिन यह योग्यता पद के अनुसार स्नातक भी हो सकती है। अगर आप किसी अच्छे पद पर नौकरी पाना चाहते हैं तो आपके लिए ग्रेजुएशन की परीक्षा पास करना अनिवार्य है।

Read More: MLA ka Full Form Kya Hota Hai

अन्य योग्यता

क्लर्क बनने के लिए कंप्यूटर का ज्ञान होना अनिवार्य है, आप NIELET संस्थान से O लेवल या CCC कोर्स कर सकते हैं। इसके साथ ही आपकी टाइपिंग स्पीड भी अच्छी होनी चाहिए, आपको हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में टाइपिंग का ज्ञान होना चाहिए। टाइपिंग की गति विभाग या परीक्षा नियामक द्वारा तय की जाती है।

सैलरी

सरकारी विभाग में लोअर डिवीजन क्लर्क (LDC) का वेतन बैंड 5200-20200 है और सकल वेतन 22,392 – 26,026 है। निजी संस्थान में यह वेतन संस्थान पर निर्भर करता है, क्लर्क के पद के लिए यह वेतन लगभग 15000 रुपये से 25000 रुपये प्रति माह है।

तैयारी कैसे करे ?

सही निर्णय और पाठ्यक्रम

क्लर्क की तैयारी करने से पहले आपको यह तय करना होगा कि आप किस क्षेत्र में जाना चाहते हैं, क्योंकि सभी परीक्षाओं का स्तर और सिलेबस अलग-अलग होता है। अगर आप बैंक में क्लर्क बनना चाहते हैं तो आपको उसी के मुताबिक तैयारी करनी होगी। अगर आप कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से क्लर्क बनना चाहते हैं, तो आपको इसके सिलेबस के अनुसार खुद को तैयार करना होगा।

कमजोर बिंदु को समझें

परीक्षा का चयन करने के बाद आपको परीक्षा के पाठ्यक्रम को सही ढंग से पढ़ना और समझना चाहिए। इसके बाद आपको अपने कमजोर बिंदुओं को नोट करना होगा। कमजोर बिंदुओं को जानने के बाद आपको हर दिन एक ऐसी दिनचर्या बनानी चाहिए जिससे आपका कमजोर बिंदु ठीक हो सके, जैसे अगर आप गणित, रीजनिंग या अंग्रेजी में कमजोर हैं तो आपको इन विषयों पर अतिरिक्त समय देना होगा और इसके लिए आप सेल्फ स्टडी कर सकते हैं। या फिर आप कोचिंग संस्थान से जुड़ सकते हैं।

Read More: Malware ko Hindi me Kya Kehte Hai

ऑनलाइन कोचिंग

आप ऑनलाइन कोचिंग में भी भाग ले सकते हैं। यूट्यूब पर कई चैनल फ्री में तैयारी करते हैं, आप यहां से अपनी तैयारी बेहतर तरीके से कर पाएंगे। ऑनलाइन कोचिंग का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप कोचिंग संस्थान से आने-जाने में समय की बचत कर सकते हैं, इसके अलावा पैसे का खर्चा भी कम होगा और समय की पाबंदी भी नहीं होगी।

कंप्यूटर ज्ञान और टाइपिंग

क्लर्क बनने के लिए कंप्यूटर का ज्ञान और टाइपिंग बहुत जरूरी है, इसके लिए आपको किसी भी संस्थान से जुड़ना होगा। O लेवल और CCC कोर्स आप घर बैठे भी कर सकते हैं इसके लिए आपको NIELET की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कर परीक्षा देनी होगी। टाइपिंग के लिए आपको रोजाना कम से कम दो घंटे टाइपिंग करनी होगी, जिसके बाद आपकी स्पीड अच्छी हो। आयोग द्वारा आयोजित टंकण परीक्षा में बैकिंग का विकल्प नहीं दिया गया है, जिससे गलती होने पर आप कोई सुधार नहीं कर पाएंगे। इसलिए आपको टाइपिंग बहुत अच्छे से सीखनी होगी।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments