कब्ज के क्या कारण है जाने इसके लक्षण और उपाय 

0
97
Kabj

जैसा कि आप सभी जानते हैं आजकल तरह-तरह की चीजें लोगों द्वारा खाई जाती है जिसे दिन भर पेट में भारीपन सर में दर्द ना जाने क्या-क्या कुछ सहना पड़ता है। अधिकतर लोगों को दिन की शुरुआत कुछ इसी तरह होती है इस बात से आप भी इनकार नहीं कर सकते कि पेट की खराबी से तो पूरा दिन ही खराब हो जाता है आज के समय में कब्ज की समस्या है कि लगभग हर बीमारी की जड़ है हर किसी को आज कब्ज की समस्या बनी रही है. इसके लिए कई प्रकार के उपाय किए जाते हैं ताकि खबर से छुटकारा मिले लेकिन लोगों छुटकारा नहीं मिल पाता इसलिए हम इसके बारे में आजा उपाय बताने वाले को परेशानी से मुक्ति हो सकते हैं चलिए आपको उसके बारे में बताते हैं

कब्ज क्या है?

कब्ज पाचन तंत्र से जुड़ी एक समस्या है जिसे मल त्याग करते समय प्रॉब्लम होती है मल त्याग करते समय जब आसानी से मल गुदा से बाहर नहीं निकल पता तो उसे कब्ज कहते हैं इस वास्तव में मल सख्त और सूखा हो जाता है जिसके कारण पेट में मल त्याग करते समय दर्द भी हो सकता है एक शोध के अनुसार पता चला है कि हफ्ते में तीन तीन बार से कम शौच आने को कब्ज से माना जाता है इस समस्या को समस्या कैसी भी आयु में यह समस्या किसी भी आयु में हो सकती है इसलिए इस समस्या को जल्दी निजात पाने के लिए इसके लिए उपाय करें जाते हैं ताकि कोई आराम मिल सके लेकिन आराम नहीं मिलता है इसी को हम कब्ज कहते हैं.

Also Read: JSP ka Full Form Kya Hota Hai? -In Hindi- What is the Full Form of JSP?

कब्ज के क्या कारण है 

जैसे कि आप सभी जानते हैं आज की जीवनशैली ऐसी है कि लोग कई प्रकार का खाना खाते हैं जिसके कारण उन्हें कब्जे से समस्या होती है सबसे पहले बात की जाती है। 

आपकी कम फाइबर युक्त भोजन का सेवन करने से यदि आप फल सब्जी और अनाज में फाइबर प्राप्त मात्रा में नहीं लेते हैं तो आपको कब्ज की समस्या हो सकती है क्योंकि फाइबर आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि इसमें साल्युबल और इनसाल्युबल पानी की मात्रा ज्यादा होती है जो पानी आपके पेट में खाना खाते हैं उसको पतला करता है ताकि आपको ठीक तरह से मलत्यग के टाइम कोई परेशानी ना आए। 

दवाइयों का सेवन

कुछ लोग दवाई का सेवन कुछ बीमारी से निजात पाने के लिए करते हैं लेकिन कुछ दवाइयों का सेवन कब्ज की बीमारी का कारण भी बन सकते हैं क्योंकि कुछ एंटीबायोटिक्स और दर्द निवारक दवाइयां कब्ज का कारण बन सकती हैं इसलिए आपको मल त्याग के समय कब्ज बन सकती है.

गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाओं को अक्सर कब्ज का सामना करना पड़ता है इस दौरान प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन का स्तर ज्यादा और मोटीलिन हार्मोन का स्तर कम हो जाता है इसी कारण पेट में मल त्याग करते समय कब्ज की समस्या बन सकती है.

तनाव 

तनाव लेने से भी आपको कब्ज की समस्या हो सकती है तनाव के दौरान निकलने निकलने वाले हार्मोन आंत में संक्रमण का कारण बन सकते हैं और मल त्याग करते समय आपको कब्ज की समस्या बना सकते हैं इसलिए आपको हो सके तो ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें।

कब्ज के क्या है लक्षण 

यदि किसी व्यक्ति को कब्ज हो रहे हैं तो आप इस तरीके से पता लगा सकते हैं कि उस व्यक्ति को कब्ज हो गया है सबसे पहले सामान्य से कम बार मल त्याग करना मल त्याग करते समय दर्द होना। सुखा सुखा माल आते समय पेट में दर्द होना। शौच के बाद लगाना कि पेट साफ नहीं हुआ है पेट में मरोड़ उठना दर्द होना, मुंह में छाले होना ,लंबे समय तक शौच में बैठना है यह सभी कब्ज होने के लक्षण है.

Also Read: ADJ ka Full Form Kya Hota Hai? -In Hindi- What is the Full Form of ADJ?

कब्ज के लिए घरेलू उपाय 

यदि आपको कब्ज है और उसे आप ठीक करना चाहते हैं तो आप उसे घर बैठे ही ठीक कर सकते हैं कुछ घरेलू उपाय करके जो इस प्रकार है सबसे पहले आपको पानी आपको पे गुनगुना गिलास पानी लेना है आधा चम्मच नींबू का रस लेना है एक चम्मच शहद लेना है यह सभी को मिक्स करके आपको एक गिलास बना लेनी है अब एक जगह बैठ जाए और जितना हो सके पानी को घुट घुट कर पे लेना है। इसके बाद खुले जगह पर 15:20 मिनट घूमने जाए। इसके लिए आपको सुबह सुबह सो कर उठने के बाद शहद के साथ दिन नींबू पानी का सेवन अपनी डाइट में शामिल करें तथा सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में शहद और नींबू मिलाकर पीने से कब्ज से बचा सकती है ऐसे में कोई इलाज घरेलू उपाय कर सकता है.

पपीता 

आपको एक कटोरी पपीता लेना है एक कप डेयरी फ्री कोकोनट योगर्ट लेना है इन दोनों को मिक्स करके एक शेक बना लेना है फिर गिलास में डालकर इसका सेवन करना है इसका सेवन करने से आप को कब्ज की समस्या कम हो जाती है और मल त्याग के समय आपको पेन नहीं होगा आपका पेट पूरा साफ हो जाएगा पपीते को कब्ज का रामबाण इलाज माना जाता है क्योंकि इससे पपाइन नामक तत्व होता है जो भोजन को पचा सकता है जिसे कि आपको कब्ज की समस्या से निजात मिल सकती है। 

आलूबुखारे का जूस 

यदि आप आलूबुखारे का जूस रोजाना पीते हैं तो आपको कब आज के समाचार से कब्ज की समस्या से निजात मिल सकती है क्योंकि आलूबुखारे के जूस में एक तत्व पाया जाता है जो आपके मल को नरम करने में मदद करता है तथा मल’ करते समय आपको कोई पैन नहीं होता जिसे आपको इससे कब्ज से छुटकारा मिल जाता है.

आपका हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं धन्यवाद

Also Read: MRI ka Full Form Kya Hota Hai? -In Hindi- What is the Full Form of MRI?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here