पीएम मित्र योजना क्या है इसके बारे में जाने 

0
79
PM Mitra Yojana

आपको बता दें कि हमारे देश में बहुत सारे बेरोजगारी हुआ है जो कि नौकरी की तलाश में इधर-उधर भटक रहे हैं लेकिन उन्हें नौकरी नहीं मिल रही है इसके लिए सरकार ने पीएम मित्र योजना लागू की है। आपको बता दें कि सरकार द्वारा रोजगार को बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किए जाते हैं इसके लिए सरकार कई प्रकार की योजनाएं लागू करती है इस योजनाओं के द्वारा लोगों को परीक्षण तथा वित्तीय सहायता दी जाती है.

आज हम आपको टटेक्सटाइल एवं मैन्युफैक्चरिंग में क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई योजना के बारे में बताएं बताने वाले हैं जिसको सरकार ने पीएम मित्र योजना PM Mitra Yojana का नाम दिया है। इस योजना के तहत सरकार टटेक्सटाइल बिजनेस का मॉडल तैयार करेगी जिसके द्वारा है भारत में रोजगार खड़े करेगी जिसके द्वारा लोगों को रोजगार प्राप्त होगा इसलिए इस योजना का आरंभ किया गया है. पीएम मित्रा योजना के तहत टैक्सटाइल बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए इस योजना का आरंभ किया गया है जिसके तहत online में अप्लाई कर सकते हैं औरत एक अच्छी इनकम को जनरेट कर सकते हैं तो चलिए आपको उसके बारे में बताते हैं.

पीएम मित्र योजना क्या है 

आपको बता दें कि यह योजना टटेक्सटाइल एवं मैन्युफैक्चरिंग के कार्य को बढ़ाने के लिए इस योजना को शुरू किया गया। इस योजना को 6 अक्टूबर 2021 को शुरू किया गया था इस योजना के तहत देश भर में 7 इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल पार्क का निर्माण किया जाएगा जिसके तहत हर जगह पर स्पिनिंग ,बुनाई ,प्रोसेसिंग डाई और प्रिंटिंग से लेकर कपड़े की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मित्र योजना के तहत टैक्सटाइल मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रांति आएगी जिसके द्वारा लोगों को ज्यादा रोजगार प्राप्त होगा आपको बता दे कि इस योजना के लिए सरकार ने लगभग 4445 करोड़ खर्च किए हैं. पीएम मंत्री योजना 5 मॉडल पर काम करेगी जो फार्म टू फाइबर टू फैक्ट्री टू फैशन टू फॉरेन होगी। इस योजना के तहत निर्माण किया जाएगा 21 लाख नौकरियां पैदा की जाएगी जिसके तहत रोजगार प्राप्त होंगे कंपनियों के साथ जोड़ने में भी सरकार काम करेगी।

Also Read: Upload ka Hindi me Kya Matlab Hota Hai? What is the Meaning of Upload in Hindi?

पीएम मित्र योजना का उद्देश्य 

आपको बता दें कि पीएम मित्र योजना का उद्देश्य बड़े पैमाने पर वस्त्र के उद्योगों को बढ़ावा देना है तथा बढ़ावा देने के साथ-साथ इसकी आपूर्ति को बढ़ाना भी है जिससे कि इसकी अपूर्ति विदेश में भी हो सके और लोग इसे खरीद सके. इस योजना का मुख्य उद्देश्य रोजगार पैदा करना है जिसके तहत लाखों लोग बेरोजगार पड़े हैं उन्हें सरकार लगभग 700000 से ज्यादा लोगों को रोजगार के अवसर पैदा करके देगी और 14 लाख से ज्यादा लोग जो इनडायरेक्टली रोजगार प्राप्त कर सकते हैं. इस योजना का मुख्य उद्देश्य कपड़े के व्यापार को आगे बढ़ाना है जिससे कि कपड़े के व्यपारियो को लाभ प्राप्त हो सके.

मित्र योजना बजट 

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने इसे ग्रीन फील्ड पाक को बनाने में लगभग 500 करोड रुपए और ब्राउन फील्ड बनाने में लगभग ₹200 करोड़ खर्च करेगी ताकि कपड़ों का निर्माण करने हेतु हेतु फैक्ट्री की स्थापना की जा सके। 

मित्र योजना के लाभ

आपको बता दें कि इस योजना का आरंभ 6 अक्टूबर 2021 को किया गया था इस योजना के तहत देश भर में 7 इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल पार्क का निर्माण किया जाएगा।

इस योजना के से लगभग 2100000 नौकरियां पैदा की जाएगी 2100000 नौकरियों में 700000 डायरेक्ट होंगी और 14 लाख इनडायरेक्ट नौकरियों की भर्ती होगी। 

इसके अलावा इस योजना के मध्य में निवेश भी आकर्षित किए जा सकेंगे। 

Also Read: 4G ka Full Form Kya Hota Hai? -In Hindi- What is the Full Form of 4G?

इस योजना से जो माल गाड़ी माल ले जाने और छोड़ने के लिए ज्यादा कीमत वसूलते हैं उनके लिए एक वैल्यू चैन की तरह काम करेगा जिससे किया एक ही जगह रहकर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है

इस योजना के तहत एक ही जगह पर स्क्रीनिंग ,बुलाई प्रोसेसिंग ,डाई और पेंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जा सकेगा। 

इस योजना के तहत भारतीय कंपनी को ग्लोबल कंपनी के तौर पर उभरने का मौका मिलेगा। 

इस योजना के तहत टैक्सटाइल पार्क में वर्ल्ड क्लास इन फर्स्ट ईयर का निर्माण किया जाएगा इस योजना के तहत प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल एंड अपैरल योजना के नाम से भी जाना जाता है.

टैक्सटाइल पार्क सुविधा

आपको बता रही इस योजना के तहत पार्क का निर्माण किया जाएगा है उसी पार्क में कपड़े की कटाई बुनाई रंगाई इत्यादि की जाएगी इसके तहत उन्हें कहीं और जगह जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी सभी काम ही की जगह हो जाएंगे। इस योजना के तहत कपड़ों को दुनियाभर के अलग-अलग स्थानों पर अच्छे और महंगे दामों पर को बनाने के लिए मशीनों का उपयोग किया जाएगा। यह योजना पूरी तरह से लागू हो जाएगी तब कपड़ों की उत्पादन की एक पूरी संख्या तैयार की जाएगी जिसके तहत रोजगार पैदा होंगे और कपड़ों की बिक्री पर सेल्स पर भी ध्यान देगी।

आपको बता दें कि वह सरकार पर का निर्माण करने के लिए अलग-अलग राज्यों में स्थित ग्रीन फील्ड और ब्राउन फील्ड का निर्माण किया जाएगा। इन ग्रीन फील्ड पार्क को विकसित करने के लिए सरकार ने लगभग 500 करोड रुपए खर्च करेगी बात की जाए ब्राउनफील्ड की तो विकसित करने के लिए सरकार 200 करोड़ रुपए खर्च करेगी। 

मैन फैक्चरिंग की बात की जाए तो इस बार को लगभग ₹300 खर्च करके इसे बनाया जाएगा दुनिया देशभर में 7 पार्क बनाए जाएंगे जिन पर सरकार लगभग 17000 करोड रुपए खर्च करेगी। 

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते हैं धन्यवाद

Also Read: Hotel ka Full Form Kya Hota Hai? -In Hindi- What is the Full Form of Hotel?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here