Friday, October 7, 2022
Homefull formsSIM का फुल फॉर्म क्या होता है ?

SIM का फुल फॉर्म क्या होता है ?

हम सभी सिम sim का इस्तेमाल करते हैं और सिम sim के जरिए हम फोन को चला पाते हैं, अगर सिम sim नहीं है तो हमारा मोबाइल फोन एक बॉक्स की तरह होगा और सिम sim प्लास्टिक के एक छोटे टुकड़े की तरह है, लेकिन इसमें एक इंटीग्रेटेड चिप है। ऐसा लगता है कि हम एक दूसरे से तभी बात कर सकते हैं जब मोबाइल में सिम sim हो। आज हम आपको बताएंगे sim क्या होता है. sim का फुल फॉर्म क्या होता है, sim को हिंदी में क्या कहते हैं उसके बारे में आपको सब जानकारी देंगे।

सिम (SIM) का फुल फॉर्म

सिम का फुल फॉर्म “Subscriber Identity Module” है। हिंदी में पूरा नाम “ग्राहक पहचान मॉड्यूल” है।

सिम (SIM) कितने प्रकर के होते है

1- जीएसएम सिम 2- सीडीएमए सिम

जीएसएम सिम

जीएसएम सिम gsm sim किसी भी मोबाइल फोन में इंस्टाल किया जा सकता है। और सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला सिम जीएसएम सिम gsm sim है, इसे सभी सामान्य मोबाइल फोन में डाला जा सकता है।

सीडीएमए सिम

सीडीएमए सिम cdma sim का इस्तेमाल हम उसी मोबाइल फोन से कर सकते हैं, जिससे हमने जो मोबाइल खरीदा है। हम किसी दूसरे मोबाइल में सीडीएमए सिम नहीं लगा सकते। क्योंकि फोन के साथ ही आपको सीडीएमए सिम मिलती है। आप इस सिम को बाहर नहीं निकाल सकते। सिम उसी कंपनी का है जिसकी कंपनी आपका मोबाइल फोन है।

Read More: PGDM ka Full Form Kya Hota Hai

SIM की खोज

पहला सिम कार्ड 1991 में एक जर्मन कंपनी Gieseck & Devrient द्वारा आविष्कार किया गया था। उन्होंने ही दुनिया को वह सिम कार्ड SIM card दिया, जिससे आज पूरी दुनिया एक दूसरे से जुड़ी हुई है।

SIM क्या है ?

आज हर व्यक्ति मोबाइल फोन का उपयोग कर रहा है, जब आप मोबाइल फोन चलाते हैं, तो उसमें एक सिम होता है क्योंकि बिना सिम SIM डाले आप किसी से बात नहीं कर सकते और न ही संदेश भेज सकते हैं, न ही इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं।

सिम SIM का आकार बहुत छोटा है, मेमोरी कार्ड के बराबर, सिम कार्ड SIM card दिखने में प्लास्टिक का है लेकिन इसमें एक एकीकृत चिप integrated chip है, जिसका काम केवल मोबाइल पढ़ना है, सभी कंपनियों के पास अद्वितीय unique जानकारी, फोन नंबर और डेटा स्टोर है सिम में। सभी प्रकार के नेटवर्क के लिए फिक्स्ड।

Prepaid Sim क्या हैं

प्रीपेड Prepaid के नाम से ही पता चलता है कि इसका मतलब पहले पैसा होता है। यह एक ऐसा सिम SIM है जिसमें आपको कॉल करने, मैसेज करने और इंटरनेट इस्तेमाल करने से पहले पैसे रिचार्ज करने होते हैं।

यानी अपने मोबाइल फोन में कॉलिंग, मैसेजिंग और इंटरनेट की सुविधा का आनंद लेने के लिए आपको अपना सिम SIM पहले से रिचार्ज करना होगा तभी आप इन सेवाओं का आनंद ले सकते हैं।

Postpaid Sim क्या हैं

पोस्टपेड Postpaid नाम से ही पता चलता है कि इसका मतलब पैसा बाद में होता है। पोस्टपेड Postpaid सिम एक ऐसा सिम है जिसमें आप पहले कॉलिंग, मैसेजिंग और इंटरनेट की सुविधा का आनंद ले सकते हैं और फिर महीने के अंत में आपसे पैसे लिए जाते हैं।

मतलब यह एक सिम है जिसमें आप रिचार्ज से पहले कॉलिंग, मैसेजिंग और इंटरनेट सेवाओं का आनंद ले सकते हैं और आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली कॉलिंग, मैसेजिंग और इंटरनेट सेवाओं के आधार पर महीने के अंत में आपसे शुल्क लिया जाता है। .

Read More: RPF ka Full Form Kya Hota Hai

सिम कहाँ पर मिलती हैं

अगर आप सिम SIM खरीदना चाहते हैं तो किसी भी मोबाइल की दुकान पर जाएं और जिस कंपनी की सिम चाहिए, उस कंपनी का नाम मोबाइल शॉप पर बताकर आप सिम ले सकते हैं।

एयरटेल, आइडिया, बीएसएनएल, जियो, वोडाफोन airtel, idea, bsnl, jio, vodafone आदि जैसी कई सिम कंपनियां हैं, आप जिस कंपनी की सिम चाहते हैं, उस कंपनी की दुकान पर उस कंपनी का नाम बताकर उस कंपनी का सिम ले सकते हैं।

सिम लेने के लिये हमारे पास क्या होना चाहिए

अगर आप सिम लेने जा रहे हैं तो आपकी उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए। सिम खरीदने के लिए आपको अपनी एक पहचान और एक पासपोर्ट साइज फोटो भी साथ रखनी होगी, पहचान में आप अपना आधार कार्ड, वोटर आईडी या पैन कार्ड लगा सकते हैं और इसके अलावा आपके पास एक पासपोर्ट साइज फोटो भी होगा।

सिम कार्ड की विशेषताएं

सिम का साइज बहुत छोटा है, जिससे हमारे लिए सिम रखना और इस्तेमाल करना आसान हो जाता है।

यदि मोबाइल फोन खराब हो जाता है या किसी कारण से बैटरी समाप्त हो जाती है तो हम अन्य फोन में भी सिम को सक्रिय कर सकते हैं।

सिम चोरी हो जाने या किसी कारण से सिम खराब हो जाने पर उसी नंबर की सिम दोबारा भी ली जा सकती है।

आप पूरी दुनिया में एक ही सिम का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग सिम चार्ज कर सकते हैं।

आप एक ही नंबर का इस्तेमाल पूरी जिंदगी कर सकते हैं, जिससे आपको नंबर बदलने की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

SIM ICCID नम्बर क्या हैं

जब आप नई सिम SIM लेते हैं या आपने देखा होगा कि सिम के ऊपर कुछ नंबर लिखे होते हैं, क्या आपने कभी सोचा है कि वह नंबर क्या है और क्यों लिखा जाता है?

सिम SIM के ऊपर जो नंबर अंकों के रूप में लिखा होता है, उसे हम सिम आईसीसीड SIM ICCID नंबर कहते हैं, उस नंबर से हम पता लगा सकते हैं कि यह नंबर किसके नाम से है, यह नंबर किस क्षेत्र से इस्तेमाल हो रहा है और किस तरह का है। नेटवर्क पर काम कर रहा है? यह सारी जानकारी हम सिम आईसीसीआईडी SIM ICCID नंबर के जरिए जान सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments