Saturday, December 3, 2022
Homefull formsAICTE का फुल फॉर्म क्या होता है?

AICTE का फुल फॉर्म क्या होता है?

देश में शिक्षा का अत्यधिक महत्व है, क्योंकि वर्तमान में बिना पढ़ाई के कोई भी कार्य करना संभव नहीं है। वहीं, पढ़ाई से जुड़े कई संस्थान बनाए गए हैं, जिनमें से एक है एआईसीटीई संस्थान। यह एक संस्थान है जिसे भारत में नए तकनीकी संस्थान खोलने के लिए बनाया गया था। यह तकनीकी संस्थानों में नया पाठ्यक्रम प्रदान करने का काम करता है। 

यह इंजीनियरिंग में डिग्री प्रदान करने वाले कॉलेजों को भी मान्यता प्रदान करता है। यह तकनीकी मानकों के रखरखाव, गुणवत्ता आश्वासन की मान्यता और तकनीकी शिक्षा के मूल्यांकन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आज हम बात करेंगे एआईसीटीई AICTE का फुल फॉर्म क्या है, एआईसीटीई AICTE को हिंदी में क्या कहते हैं, एआईसीटीई AICTE कैसे काम करता है। इसके बारे में हम आपको विस्तार से जानकारी देंगे।

AICTE का फुल फॉर्म

AICTE का फुल फॉर्म All India Council for Technical Education है। इसे हिंदी में अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद कहते हैं। एआईसीटीई AICTE एक तकनीकी संगठन है। यह तकनीकी शिक्षा technical education के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की परिषद है जो एचआरडी HRD के तहत काम करती है।

एआईसीटीई AICTE का क्या मतलब

यह भारत सरकार का एक वैधानिक निकाय statutory body है। एआईसीटीई को पूरे देश में तकनीकी शिक्षा technical education के विकास की योजना बनाने और समन्वय coordinate करने का अधिकार है। यह उन कॉलेजों के लिए स्वीकृति प्रदान करता है जो विश्वविद्यालय से संबद्ध इंजीनियरिंग और प्रबंधन डिग्री engineering and management degree कार्यक्रम चलाते हैं। सरल शब्दों में, यह एक नया तकनीकी कॉलेज खोलने के लिए स्वीकृति प्रदान करने वाला एकमात्र प्राधिकरण authority to grant है।

एआईसीटीई AICTE की स्थापना 

AICTE की स्थापना वर्ष 1945 में हुई थी। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है और इसके क्षेत्रीय कार्यालय मुंबई, बैंगलोर, कोलकाता, चेन्नई, भोपाल, कानपुर, तिरुवनंतपुरम, गुरुग्राम, गुवाहाटी, चंडीगढ़, हैदराबाद और बड़ौदा जैसे शहरों में स्थित हैं। हालाँकि इसे शुरू में केवल एक सलाहकार निकाय के रूप में स्थापित किया गया था, बाद में इसे 1987 में संवैधानिक दर्जा constitutional status दिया गया था। 

Read More: BAMS ka Full Form Kya Hota Hai

AICTE का गठन नवंबर 1945 में भारत में शिक्षा प्रणाली के विकास को बढ़ावा देने के लिए किया गया था, 1987 तक, यह एक सलाहकार निकाय के रूप में कार्य कर रहा था। शिक्षा विभाग, मानव संसाधन विकास मंत्रालय लेकिन 1987 में इसे संसद में स्थानांतरित कर दिया गया। इसे एक अधिनियम द्वारा वैधानिक दर्जा दिया गया था, ताकि यह अधिक प्रभावी ढंग से कार्य कर सके। 

एक निकाय के रूप में एआईसीटीई AICTE भारतीय संस्थानों के लिए प्रौद्योगिकी की विशिष्ट श्रेणियों के तहत सभी स्नातकोत्तर और स्नातक postgraduate and undergraduate programs कार्यक्रमों की मान्यता के लिए जिम्मेदार है। AICTE और UGC (विश्वविद्यालय अनुदान आयोग) के बीच मुख्य अंतर यह है कि UGC केवल भारत में गैर-तकनीकी शिक्षा को मान्यता देता है जबकि AICTE तकनीकी शिक्षा और प्रबंधन शिक्षा को मान्यता देता है।

Monitoring of AICTE Courses

  • Bachelors and Masters of Engineering (BE, B.Tech, ME, M.Tech)
  • Bachelors and Masters in Architecture (Arch, M.Arch)
  • Bachelors and Masters of Pharmacy (Pharm, M.pharm)
  • Masters of Business Administration (MBA)
  • Masters of Computer Application (MCA)

यह संस्था शिक्षा के 10 बोर्डों को मान्यता प्रदान करती है, इसके अंतर्गत कई बोर्ड आते हैं।

  1. आर्किटेक्चर
  2. इंजीनियरिंग और टेक में यूजी अध्ययन
  3. इंजीनियरिंग और टेक में पीजी और रिसर्च
  4. व्यावसायिक शिक्षा
  5. मैनेजमेंट स्टडीज
  6. तकनीकी शिक्षा
  7. सूचान प्रौद्योगिकी
  8. टाउन एंड कंट्री प्लानिंग

होटल प्रबंधन और खानपान प्रौद्योगिकी

अगर आप किसी भी टेक्निकल कॉलेज से टेक्निकल नॉलेज लेना चाहते हैं तो आपको उस कॉलेज के बारे में सारी जानकारी होनी चाहिए कि वह कॉलेज AICTE से अप्रूव है कि नहीं है वह डिग्री गोवेरमेंट से अप्रूव होगी कि नहीं इसके बारे में आपको सारी जानकारी ले लेनी चाहिए। 

इसके बाद ही उस कॉलेज में दाखिला लेना चाहिए क्योंकि AICTE ही एक ऐसी संस्था है ,जो कि टेक्निकल कॉलेजों को रखरखाव के बारे में जानकारी रखती है. उसके लिए आपको उन कॉलेज बारे में सारी जानकारी होनी चाहिए उसके बाद ही आप उस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहिए।

Read MoreTGT ka Full Form Kya Hota Hai

आपको बता दें कि एआईसीटीई AICTE हमें बहुत सारे टेक्निकल कोशिश करने का मौका देती है जिसके बदौलत हम कोई भी कोर आसानी से कर सकते हैं किसी भी कॉलेज में जाकर अगर आप इंजीनियरिंग engineering करना चाहते हैं. तो आप इंजीनियर कर सकते हैं अगर आप होटल मैनेजमेंट hotel management करना चाहते हैं तो आप होटल मैनेजमेंट का कोर्स भी इसके अंतर्गत ही कर कर सकते हैं जिसके बाद आप आसानी से कहीं भी डिग्री होने के बाद प्राप्त कर सकते हैं |

इसके बाद आप वहां पर कुछ दिन काम करके वहां से एक्सपीरियंस experience मिलने के बाद आप एक बड़ी कंपनी में काम कर सकते हैं. जिसके बाद आपको ज्यादा सैलरी मिलेगी और आपकी इज्जत भी ज्यादा होगी। इसलिए आप कभी भी टेक्निकल कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले उस कॉलेज के बारे में सारी जानकारी ले लेनी चाहिए कि वह कॉलेज पहले से एआईसीटीई AICTE से अप्रूव है कि नहीं इसके बाद ही उस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहिए।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको एआईसीटीई के बारे में सारी जानकारी मिल गई होगी AICTE का फुल फॉर्म क्या होता है, AICTE को हिंदी में क्या कहते हैं ,AICTE कैसे काम करती है इसके बारे में आपको सारी जानकारी मिल गई होगी यदि आपका कोई सुझाव है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप ही अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments