Saturday, August 13, 2022
Homefull formsB. Pharma का फुल फॉर्म क्या होता है ?

B. Pharma का फुल फॉर्म क्या होता है ?

पहले के समय में लोग आज के समय में पढ़ाई पर बहुत ज्यादा ध्यान देने लगे हैं, पहले पढ़ाई कम होती थी और लोगों को चीजों के बारे में कम जानकारी होती थी, लेकिन आज के समय में आपको बहुत कम ऐसे लोग मिलेंगे जिन्होंने पढ़ाई नहीं की है। और आज के समय में पढ़ाई के साथ-साथ अच्छी नौकरी पाना सभी लोगों का सपना होता है, हर कोई डॉक्टर, इंजीनियर, पायलट टीचर आदि में अपना करियर बनाना चाहता है.

हर किसी की सोच एक जैसी नहीं होती, कुछ लोग उनसे कुछ अलग करना चाहते हैं जिसके लिए वो दिन रात मेहनत करते हैं और खूब पढ़ते हैं, लेकिन कई बार इतनी मेहनत और पढ़ाई करने के बाद भी उन्हें नौकरी नहीं मिल पाती है, तो आज हम आपको बताएंगे कि हम इस पोस्ट में बी फार्मा के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देंगे जिससे आपको बी फार्मा फीस, डी फार्मा, डी फार्मा फुल फॉर्म, बी फार्मा फीस, बी फार्मा कोर्स फीस, फार्मेसी में करियर, एम फार्मा मिलेगा ,तो आज हम बात करेंगे B Pharma क्या होता है, ATC का फुल फॉर्म क्या होता है, ATC को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

B. Pharma का फुल फॉर्म

B-Pharma का फुल फॉर्म Bachelor of Pharmacy है। हिंदी भाषा में इसका मतलब ‘फार्मेसी स्नातक’ होता है।

बैचलर ऑफ़ फार्मेसी (B. Pharma) क्या है?

बैचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स करने के लिए छात्रों का साइंस स्ट्रीम से 12वीं (12वीं) पास होना अनिवार्य है। इसके बाद छात्र आसानी से बी फार्मा B Pharma कोर्स में दाखिला ले सकते हैं। बी. फार्मा B Pharma का कोर्स चार साल का होता है। इसमें आपको फार्मेसी से जुड़ी दवाओं और टेस्ट की जानकारी दी जाती है। यह 4 साल का ग्रेजुएशन कोर्स है। लेकिन अगर आप फार्मेसी में रुचि रखते हैं तो यह आपके लिए एक बढ़िया विकल्प है।

B. Pharma करने के लिए क्या योग्यता होती है ?

B.Pharma कोर्स करने के लिए आपको साइंस बायोलॉजी के साथ 12वीं पास करना होगा उसके बाद आप बी फार्मा के लिए अप्लाई कर सकते हैं लेकिन इसमें एडमिशन लेने के लिए आपको किसी कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम देना होता है लेकिन कुछ कॉलेज मेरिट के आधार पर दाखिला लेते हैं, अगर आप भी बी फार्मा B.Pharma कोर्स करना चाहते हैं तो आप इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसमें प्रवेश परीक्षा में BITSAT, WBJEE, TSEMACET जैसी परीक्षा देकर B.Pharma में प्रवेश पाया जा सकता है और आप वैसे आप बी फार्मा B.Pharma में डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। जो आपके भविष्य के लिए काफी फायदेमंद साबित होगा।

Read More: ICT ka Full Form Kya Hota Hai

B.Pharm कितने साल का होता है?

B pharma कोर्स 4 साल का होता है, 4 साल का कोर्स 8 सेमेस्टर का होता है और प्रत्येक सेमेस्टर के अंत में इसकी परीक्षा होती है, जिसके बाद आप अगले सेमेस्टर में जाने के योग्य होते हैं। आप इस कोर्स को रेगुलर मोड से ही कर सकते हैं, आप इस कोर्स को डिस्टेंसिंग मोड distancing mode से नहीं कर सकते।

B.Pharm कोर्स को करने में लगने वाली फीस

सभी निजी संस्थानों की अलग-अलग फीस होती है, प्रत्येक संस्थान की फीस इस बात पर निर्भर करती है कि वह संस्थान आपको कौन सी फैकल्टी प्रदान कर रहा है।

प्रत्येक संस्थान में इसकी अलग-अलग फीस होती है, इसलिए हम इसकी सही फीस नहीं बता सकते, लेकिन अगर आप यह कोर्स किसी अच्छे संस्थान से करते हैं, तो आपके 4 साल के कोर्स में आप 3 लाख से 5 लाख रुपये खर्च करेंगे।

B.Pharm करने के फायदे

  • जब आप 12वीं के बाद B.Pharm करते हैं तो आपको कई फायदे होते हैं जो नीचे बताए गए हैं।
  • B.Pharm करने के बाद आप केमिस्ट की नौकरी कर सकते हैं।
  • अगर आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो उसके लिए आपको लाइसेंस मिल सकता है।
  • कॉलेज में फार्मासिस्ट के रूप में काम कर सकते हैं।
  • सरकारी एवं गैर सरकारी विभागों के अनुसंधान विभाग में कार्य कर सकते हैं।
  • B.Pharm एक अंडरग्रेजुएट डिग्री है जो हर जगह काम आएगी।
  • और इसके अलावा आपके पास कुछ और भी विकल्प है। उदाहरण के लिए
  • Research agency
  • Health Center
  • Medical store
  • Medicine Company, etc.

कहाँ से करें बी.फार्मा, प्रमुख कॉलेज

  1. Institute of Chemical Technology – (ICT), Mumbai
  2. University Institute of Pharmaceutical Sciences, Chandigarh
  3. Goa College of Pharmacy – Goa
  4. Guru Gobind Singh Indraprastha University – (GGSIPU), New Delhi
  5. LM College of Pharmacy – (LMCP), Ahmedabad
  6. Poona College of Pharmacy, Pune
  7. JSS College of Pharmacy, The Nilgiris, Tamil Nadu
  8. AL – Amin College of Pharmacy, Bangalore
  9. Indian Institute of Technology – (BHU IIT), Varanasi
  10. Madras Medical College – (MMC), Chennai
  11. Manipal College of Pharmaceutical Sciences, Manipal

B.Pharm के बाद क्या करें

बैचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स करने के बाद आपको बहुत ही आसानी से जॉब मिल जाती है। इस क्षेत्र में आसानी से नौकरी मिलने का कारण यह है कि आज के समय में फार्मेसी के अंदर दवाओं और टेस्टिंग पर ज्यादा जोर दिया जाता है। यह बहुत जरूरी है, तो इसके अंदर कई जगहों पर आसानी से क्या उपलब्ध है और इसका दायरा बहुत अच्छा है और बैचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स करने के बाद कोई भी कई तरह से नौकरी कर सकता है जैसे

Read More: TRP ka Full Form Kya Hota Hai

  • Hospital pharmacy
  • Clinical Pharmacy
  • Technical pharmacy
  • Research agencies
  • Medical Dispensing Store
  • Sales and Marketing Department
  • Educational institution
  • Health Center

इसके अलावा आप अपनी पढ़ाई जारी रखते हुए एम.फार्मा भी कर सकते हैं। एम.फार्मा की प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्रों के लिए छात्रवृत्ति का भी प्रावधान है।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments