Saturday, August 13, 2022
Homefull formsCFO का फुल फॉर्म क्या होता है?

CFO का फुल फॉर्म क्या होता है?

देश में लोगों के जीवन यापन के लिए कई ऐसे पद बनाए गए हैं, जिन्हें पाकर लोग इसमें अपना पैसा कमा सकते हैं और आसानी से अपना जीवन यापन कर सकते हैं। इसी तरह सीएफओ CFO भी एक पद है। यह एक ऐसा पद है जिसमें लोगों को किसी एक कंपनी में वरिष्ठ वित्त प्रबंधक की नौकरी प्रदान की जाती है। यानी सीएफओ CFO का पद किसी एक कंपनी में सीनियर फाइनेंस मैनेजर का होता है।

यह एक बड़ा पद है, जिसमें लोगों को अच्छा वेतन भी दिया जाता है। तो अगर आपको सीएफओ CFO के पद से संबंधित अधिक जानकारी नहीं मिलती है.आज हम बात करेंगे CFO क्या होता है, CFO का फुल फॉर्म क्या होता है, CFO को हिंदी में क्या कहते हैं, CFO का क्या काम होता है. इसके बारे में आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

सीएफओ (CFO) का फुल फॉर्म

CFO का फुल फॉर्म  “Chief Financial Officer” है,  हिंदी में “मुख्य वित्तीय अधिकारी” कहा जाता है। यह एक महत्वपूर्ण और बड़ा पद माना जाता है।

सीएफओ का क्या मतलब

सीएफओ CFO का एक ऐसा पद होता है, जो मुख्य रूप से किसी कंपनी में सीनियर फाइनेंस मैनेजर का होता है। सीएफओ का पद पाने वाले लोग किसी एक कंपनी में सीनियर फाइनेंस मैनेजर के पद पर काम करते हैं, जिनका काम कंपनी में सभी वित्तीय गतिविधियों financial activities की निगरानी और प्रबंधन करना होता है। इसके साथ ही सीएफओ CFO कंपनी में वित्त और लेखा विभाग का प्रमुख भी होता है।

इसलिए फाइनेंस से जुड़े सारे काम और सारे रिस्क कंपनी में ही करने होते हैं। सीएफओ CFO प्रबंधन संचालन के लिए सभी के लिए जिम्मेदार है। सीएफओ CFO बनने के लिए ट्रेड फाइनेंस या संबंधित क्षेत्रों में समृद्ध अनुभव की आवश्यकता होती है। किसी भी संगठन में, CEO या तो मुख्य कार्यकारी अधिकारी के साथ काम करता है या यह CFO के साथ मिलकर काम करता है।

CFO के लिए योग्यता?

सीएफओ CFO बनने के लिए आपका पोस्ट ग्रेजुएशन post graduation पूरा होना जरूरी है। CFO बनने के लिए आपके पास Accounting, Finance या Business जैसे MBA में मास्टर डिग्री भी होनी चाहिए। सीएफओ बनने के लिए आपके पास किसी कंपनी में वरिष्ठ पद पर 8 से 10 साल का अनुभव होना चाहिए।

CFO की सैलरी

सीएफओ CFO के रूप में आपका वेतन काफी हद तक उस आय पर निर्भर करेगा जो आपका संगठन लाता है, और इसलिए सीधे उस कंपनी के आकार और सफलता से संबंधित होगा जिसके लिए आप काम करते हैं। अगर अनुमान लगाया जाए तो इसमें आपकी सैलरी 2 लाख से 3 लाख तक हो सकती है. एक सीएफओ CFO का वेतन कंपनी से कंपनी में भिन्न होता है।

सीएफओ की कुछ प्रमुख जिम्मेदारियां

  • केवल एक सीएफओ CFO ही अपनी कंपनी के लिए योजना और वित्तीय रणनीति को क्रियान्वित करने का काम करता है।
  • वित्तीय विवरण केवल एक सीएफओ द्वारा सत्यापित किए जाते हैं।
  • आपकी कंपनी के लिए पूंजी संरचना और वित्तीय कार्यों के संचालन का कार्य सीएफओ CFO द्वारा ही किया जाता है।
  • सीएफओ CFO कंपनी के सीईओ CFO को वित्तीय रिपोर्टिंग करने का काम भी करता है।
  • सीएफओ CFO अपनी कंपनी के लिए वित्तीय और कर रणनीतियों की योजना बनाने का काम भी करता है।
  • सीएफओ CFO कंपनी के निदेशक मंडल को वित्तीय जानकारी देने का काम भी करता है।

सी. ई. ओ. CEO की फुल फॉर्म

CEO का फुल फॉर्म होता है – Chief Executive Officer,  हिंदी में मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में जाना जाता है। सामान्य शब्दों में किसी भी कंपनी या संगठन का मुख्य अधिकारी, जिसे उस कंपनी का कर्ता कहा जा सकता है।

वह व्यक्ति जो किसी संस्था या कंपनी का काम मुख्य भूमिका से संभालता है। उन्हें उस कंपनी या संस्था का CEO कहा जाता है। आपने कई कंपनियों में एमडी (मैनेजिंग डायरेक्टर) को देखा होगा, वे भी कंपनी के सीईओ की तरह होते हैं।

किसी कंपनी या संगठन को किस दिशा में ले जाना मुख्य कार्यकारी अधिकारी की भी जिम्मेदारी होती है, जैसे: कंपनी के लिए यह कौन सा बाजार फायदेमंद है या किस कंपनी के साथ साझेदारी कर लाभ देगा आदि-आदि! ऐसे सभी बड़े फैसले सीईओ लेते हैं।

CEO कैसे बने?

किसी भी संस्था या कंपनी में CEO अपनी कंपनी का सबसे बड़ा अधिकारी होता है, ऐसे में इस पद का चयन भी बहुत सावधानी से किया जाता है, किसी भी संगठन या कंपनी के CEO का चुनाव उस कंपनी के निदेशक मंडल द्वारा किया जाता है।

सीईओ CEO का वेतन कितना है?

सीईओ CEO की सैलरी कंपनी के नियमों के अनुसार अलग होती है, सीईओ CEO को एक कंपनी में 5 लाख रुपये दिए जाते हैं, फिर एक कंपनी में 5 करोड़ रुपये भी दिए जाते हैं, किसी भी एसईओ CEO को कितना वेतन दिया जाएगा, यह उस कंपनी पर निर्भर करता है, ज्यादातर बड़ी कंपनी के seo को ज्यादा सैलरी दी जाती है।

अगर आप इस नौकरी को पाना चाहते हैं या पाना चाहते हैं तो कंपनी के नियमों के अनुसार काम अलग-अलग हो सकता है और सभी कंपनी के नियमों के मुताबिक सीईओ CEO को अलग या ज्यादा सैलरी मिल सकती है अगर आप किसी बड़ी कंपनी में काम करते हैं। अगर आप करते हैं तो आपको बहुत सारी सुविधाएं मिलेंगी और एक छोटी कंपनी में सीईओ CEO को अक्सर काम की सुविधा मिलती है।

CEO के कार्य

  • कंपनी में काम करने वाले सभी कर्मचारियों को प्रेरित करना सीईओ का काम है।
  • योजना बनाना और नीतियों में आवश्यकता के अनुसार परिवर्तन करना।
  • कंपनी से जुड़े मुख्य फैसले लेना भी उनका काम होता है।
  • कंपनी की बिक्री बढ़ाने के लिए सुझाव देना।
  • सभी कर्मचारियों को काम के लिए प्रेरित करना।
  • कंपनी के उत्पाद और गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए उन्हें और बेहतर बनाते हैं।
  • कंपनी को विकसित करने के लिए हर संभव प्रयास करने के लिए।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments