Thursday, August 18, 2022
Homefull formsCTET का फुल फॉर्म क्या होता है ?

CTET का फुल फॉर्म क्या होता है ?

हमारे देश में अधिकांश छात्र जो शिक्षक के रूप में अपना करियर बनाना चाहते हैं। वर्तमान में यदि आप शिक्षक बनना चाहते हैं तो आपके लिए सीटीईटी CTET परीक्षा में सफलता प्राप्त करना आवश्यक है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद (CBSE) द्वारा केंद्रीय शिक्षक भर्ती परीक्षा या सीटीईटी परीक्षा CTET exam आयोजित की जाती है। यह परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है। सीबीएसई CBSE द्वारा वर्ष 2011 से केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा आयोजित की जा रही है। वर्ष 2011 से सरकारी स्कूलों में शिक्षक की नौकरी पाने के लिए सीटीईटी CTET अनिवार्य हो गया है। तो आज हम बात करेंगे सीटेट CTET क्या होता है, सीटेट CTET का फुल फॉर्म क्या होता है ,सीटेट CTET को हिंदी में क्या कहते हैं। इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

CTET का फुल फॉर्म

CTET का फुल फॉर्म Central Teacher Eligibility Test है.हिंदी में सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट कहा जाता है।

CTET क्या होता है?

एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है जिसके माध्यम से केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) आयोजित करता है। यह परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है। कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को पढ़ाने के लिए शिक्षकों की नियुक्ति किसके द्वारा की जाती है। इस परीक्षा के माध्यम से योग्य शिक्षकों की नियुक्ति की जाती है। इसमें दो टेस्ट पेपर होते हैं, पेपर 1 और पेपर 2। जो उम्मीदवार कक्षा 1 से 5 तक पढ़ना चाहते हैं, उन्हें पेपर 1 और कक्षा 6 से 8 तक पढ़ाने के इच्छुक उम्मीदवारों को पेपर 2 में शामिल होना होगा। कक्षा 1 से 8 तक पढ़ाने के इच्छुक उम्मीदवारों को दोनों पेपरों में उपस्थित होना होगा।

यह एक केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा है। जिसका आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, नई दिल्ली द्वारा किया जाता है। इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य शिक्षक की शिक्षण क्षमता का परीक्षण करना है। शिक्षक बनने का सपना देख रहे छात्रों के लिए इस परीक्षा को पास करना अनिवार्य है। बी.ए., बी.कॉम., बी.एससी., बी.एड. जैसे स्नातक करने के बाद 2011 से पहले कक्षा 1 से कक्षा 8 तक शिक्षक बनने के लिए। (बैचलर ऑफ एजुकेशन)/बी.टी.सी. करना जरूरी था ।

Read More: Class ka Full Form Kya Hota Hai

उसके बाद, सरकार द्वारा शिक्षक बनने के लिए उम्मीदवार द्वारा प्राप्त अंकों के आधार पर मेरिट सूची से शिक्षकों का चयन किया गया। 2011 में सरकार द्वारा एक नियम लागू किया गया था। जिसके अनुसार शिक्षक बनने के इच्छुक उम्मीदवारों की नई नियुक्ति के लिए उपरोक्त योग्यताओं के अलावा सभी उम्मीदवारों को सीटीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करना आवश्यक है।

यह परीक्षा उम्मीदवारों की बच्चों को पढ़ाने की क्षमता (बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा प्रवीणता, शिक्षण क्षमता, तार्किक क्षमता, पर्यावरण अध्ययन आदि) का परीक्षण करती है। इस परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवार शिक्षक बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस परीक्षा का उद्देश्य बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करना है। क्योंकि जब शिक्षक में ही पढ़ाने की क्षमता नहीं है तो वह बच्चों को बेहतर शिक्षा कैसे दे सकता है।

इसलिए राज्य परीक्षा आयोजित की जाती है। यह परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है। उम्मीदवार जिन्होंने B.A./B.Com./B.Sc. अगर उन्होंने बैचलर ऑफ एजुकेशन (बी.एड.) की परीक्षा पास कर ली है और वे सरकारी स्कूल टीचर बनना चाहते हैं तो उनके लिए यह परीक्षा पास करना जरूरी है।

सीटेट CTET परीक्षा क्या है ?

सीटीईटी CTET एक शिक्षक पात्रता परीक्षा है, जो सीबीएसई CBSE द्वारा आयोजित की जाती है। इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य योग्य शिक्षकों का चयन करना है। राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (NCTE) द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार, केन्द्रीय विद्यालयों में शिक्षक की नौकरी के लिए उम्मीदवार को सीटीईटी CTET पास करना अनिवार्य है। इस परीक्षा को आयोजित करने की जिम्मेदारी केंद्रीय स्कूल शिक्षा बोर्ड के साथ यूपीएससी UPSC को सौंपी गई है।

परीक्षा में बैठने के लिए योग्यता

प्राथमिक स्तर के शिक्षक के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को कम से कम 45 प्रतिशत के साथ 10+2 उत्तीर्ण होना चाहिए .उम्मीदवार जो प्रारंभिक स्तर के शिक्षक के रूप में नियुक्ति लेना चाहते हैं, उन्हें स्नातक कम से कम 45% और 10 + 2 50% के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए। इसके लिए उम्मीदवारों ने टीचिंग ट्रेनिंग प्रोग्राम भी पूरा कर लिया होगा।

CTET की परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करें?

जो लोग सीटीईटी CTET परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं वे सीटीईटी CTET की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। (CTET www.ctet.nic.in पर ऑनलाइन आवेदन करें)

Read More: Bye ka Full Form Kya Hota Hai

CTET परीक्षा की तयारी कैसे करें

किसी भी परीक्षा में सफलता पाने के लिए जरूरी है कि उस परीक्षा की रणनीति बनाई जाए। आपको पता होना चाहिए कि क्या करना चाहिए ताकि हम सफल हो सकें। यहां कुछ ऐसी बातें बताई जा रही हैं जिनके जरिए आप इस परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकते हैं:

परीक्षा पैटर्न को ध्यान से पढ़े

आपको यह जानने की जरूरत है कि प्रश्न पत्र में कितने प्रश्न होंगे?, प्रत्येक प्रश्न के लिए कितने अंक होंगे?, क्या कोई नकारात्मक अंकन है, परीक्षा की अवधि कितनी लंबी है? प्रश्न पत्र में कितने खंड हैं? ?, कितने प्रश्न किस खंड में उत्तीर्ण होने के लिए न्यूनतम अंक प्राप्त करने की आवश्यकता है?

NCERT की किताबों से पढ़ें

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए NCERT की किताबें सबसे अच्छी होती हैं। सीटीईटी के लिए एनसीईआरटी की किताबों का भी पालन करें। NCERTकी किताबें आपको किसी भी विषय का गहन ज्ञान प्रदान करती हैं।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments