Saturday, August 13, 2022
Homefull formsइंडिया India का फुल फॉर्म क्या होता है?

इंडिया India का फुल फॉर्म क्या होता है?

यदि आप भारतीय Indian हैं। तो आपको पता ही होगा कि भारत India के अनेकों नाम से जाना जाता है. अंग्रेजी में भारत को इंडिया कहा जाता है. भारत को हिंदुस्तान के नाम से भी जाना जाता है। लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसका नाम भारत ही है। और यह दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है। इतना ही नहीं जनसंख्या के मामले में भी यह कई देशों को पछाड़ रहा है।. और एक दिन ये चीन को भी आबादी के मामले में पीछे छोड़ देगा.और इंडिया का फुल फॉर्म क्या है ,हम आपको इसके बारे में बताना चाहेंगे आपको वास्तव में India इंडिया का कोई फुल फॉर्म नहीं है. प्राचीन काल में इंडिया भारत को ‘आर्यावर्त’ के नाम से जाना जाता था। जैसे कि हिंदी में भारत और हिंदुस्तान के नाम से जाना जाता है.

आपको बता दें कि भारत India को यह नाम सिंधु शब्द से मिला है जो कि खुद संस्कृत सबसे लिया गया है। सिंधु एक नदी का नाम भी है. आपको बता दें कि यूनानियों ने सिंधु नदी के दूसरी तरफ देश को इंडिया India के रूप में स्थापित किया था इसलिए इसे लोग सिंधु के नाम से भी जानते थे.

इंडिया India का फुल फॉर्म

इंडिया India का पूरा नाम द रिपब्लिक ऑफ इंडिया The Republic of India आपको बता दें कि एक ऐसा देश है जो कि एशिया महाद्वीप के दक्षिण भाग में स्थित है। एरिया के हिसाब से यह दुनिया का सबसे सातवां सबसे बड़ा देश है. और जनसंख्या की दृष्टि से दूसरे स्थान पर आता है। दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र भी यहीं है। भारत दुनिया में सबसे अधिक आबादी वाला लोकतंत्र है और दक्षिण में हिंद महासागर, दक्षिण-पश्चिम में अरब सागर और दक्षिण-पूर्व में बंगाल की खाड़ी से घिरा हुआ है। भारत का नाम सिंधु नाम से भी लिया गया है।

हम आपको कुछ मजेदार और रोचक केदार दार फुल फॉर्म के बारे में बताएंगे

प्रथम फुल फॉर्म

I: Independent

N: National

D: Democratic

I: Intelligent

A: Area

द्वितीय फुल फॉर्म

I – Independent

N – Nation

D – Declared

I – In

A – August

तृतीय फुल फॉर्म

I – Independent

N – Nation

D – Democratic

I – Integration

A – Alliance

Read More: LLB ka Full Form Kya Hota Hai

भारत को और किस नाम से जाना जाता है?

आपको बता दें कि भारत को अलग-अलग कि युगों में अलग-अलग नामों से जाना जाता था उनमें से कुछ नाम है हाल आपको मैं बताने जा रहा हूं.

जम्बूद्वीप Jambudvipa

जम्बूद्वीप भारत का एक प्राचीन नाम है जिसका अर्थ है “जंबू पेड़ों की भूमि” और इसका नाम हिंदू धर्म, बौद्ध धर्म और जैन धर्म में विभिन्न धर्मों के विभिन्न धार्मिक ग्रंथों में मिलता है। जम्मू का मतलब भारतीय ब्लैकबेरी है।

आर्यव्रत / द्रविड़

अरिवर्त संस्कृत साहित्य में उत्तर भारत का नाम है। मनु स्मार्टी में हिमालय और विंध्य पर्वत के बीच का मार्ग पूर्वी बंगाल की खाड़ी से पश्चिम सागर तक गया है। दूसरी ओर दक्षिण भारत को द्रविड़ के नाम से भी जाना जाता था। द्रविड़ क्षेत्र में आधुनिक भारतीय राज्य आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, तेलंगाना और छत्तीसगढ़ का एक छोटा हिस्सा शामिल थे। इस क्षेत्र में लक्षद्वीप के अंडमान और निकोबार दीप समूह और पांडिचेरी के केंद्र शासित प्रदेश शामिल हैं।

भारतवर्ष / Bharatam

यह सब भारतवर्ष को पहले विष्णु पुराण में देश वरुण के रूप में दिया गया जो समुद्र के उत्तर में स्थित है और बर्फीली पहाड़ियों के दक्षिण में भारतम के नाम से इसे बुलाया जाता था. वह भरत के वंशज रहते हैं यह भरत को पुराणिक वैदिक युग के राजा भरत के रूप में भी स्थापित किया गया है.

Hind

हिंद का नाम फारसी भाषा से लिया गया है, कई इतिहासकारों और भाषाविदों के अनुसार, फ्रांस के लोग सिंधु का सही उच्चारण नहीं कर पा रहे थे, उन्होंने “एस” ध्वनि के बजाय “एच” ध्वनि बनाई, इस प्रकार सिंधु शब्द हिंद बन गया।

हिंदुस्तान हिंदुस्तान

11वीं शताब्दी में मुस्लिम विजेताओं ने अपने भारतीय प्रभुत्व को हिंदुस्तान कहा। हिंदुस्तान का मतलब हिंद की भूमि है।

भारत

भारत का वर्तमान नाम सिंधु नदी के नाम से लिया गया है।

सोन की चिडिया

आपको बता दें कि भारत आजादी से पहले सोने की चिड़िया कहा जाता था क्योंकि सोने की चिड़िया कहने का मतलब था कि भारतीय सशस्त्र सेना ने द्वारा भारत के लिए अपनी समृद्धि और उच्च प्रकृति के लिए यह नाम उन्हें दिया गया था शोभा यात्रा का उपयोग स्वतंत्रता सेनानी द्वारा भारतीय आत्माओं के मनोबल को बढ़ाने और ब्रिटिश राज्य की तपस्या  खिलाफ लड़ने के लिए किया गया था.

इंडिया की प्रमुख और रोचक बाते

आपको बता दें कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है यहां सभी धर्म के लोग रहते हैं जैसे कि हिंदू ,मुस्लिम ,सिख ईसाई, पारसी, बौद्ध धर्म ,जैन धर्म इत्यादि धर्म के लोग मिलजुलकर रहते हैं।  क्योंकि यहां के लोग बहुत ही शांत प्रिय किस्म के व्यक्ति होते हैं जो मिलजुल कर एक दूसरे के साथ काम करते हैं और अपने देश का नाम रोशन करते हैं। भारत में कई ऐसे राज्य हैं जहां पर आपको भारत के पुराने छवि देखने को मिल जाती है. भारत में कई ऐसे महापुरुष जन्म में हैं जिन्होंने दुनिया को अपने ज्ञान से बहुत कुछ दिया है जैसे आर्यभट्ट जिन्होंने सुनने की खोज की थी इसके अलावा स्वामी विवेकानंद, दयानंद सरस्वती, तुलसीदास कबीर दास ऐसे महान व्यक्ति हुए जिन्होंने भारत का नाम रोशन किया।

आपको बता दें कि इंडिया India ही एक ऐसा देश है जहां बहुत सारी भाषाएं एक साथ बोली जाती हैं आप किसी भी राज्य में चले जाइए आपको हर राज्य की भाषा अलग मिलेगी चाहे वह यूपी हो हरियाणा हो दिल्ली हो पंजाब हो तमिल नाडु इत्यादि ऐसे राज्य हैं जिनकी भाषा अलग अलग है लेकिन उन लोगों के विचार एक जैसे ही हैं अपने देश की एकता को बनाए रखना है और अपने लोगों का समान करके रखना है इसलिए हम लोग भारतीय लोग कहलाते हैं.

अगर आपको हमारी यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं और इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करना ना भूले

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments