Thursday, August 18, 2022
Homefull formsएनसीसी का फुल फॉर्म क्या है? जानिए

एनसीसी का फुल फॉर्म क्या है? जानिए

आज हम बात करेंगे एनसीसी NCC के बारे में की एनसीसी होती क्या है यह कैसे काम करती है, इसकी स्थापना कब हुई।  आपको बता दें कि एनसीसी यह नेशनल क्रेडिट क्रॉप्स NATIONAL CADET CORPS के नाम से जाना जाता है .यह एक ऐसी  troop होती है जो भविष्य के लिए नौजवानों को ट्रेन किया जाता है एनसीसी शब्द का दूसरा अर्थ भी है. जैसे कि THE FUTURE FORCE . नेशनल कैडेट कॉर्प्स एक्ट के अंतर्गत इसकी स्थापना 1948 में हुई थी इसका मुख्य लक्ष्य trained future manpower बनाना था जिन्हें बाद में इंडियन आर्मी फोर्स में बतौर सिविल सर्विस में दाखिल किया जा सके.

आपको बता दें कि एनसीसी के सभी छात्रों को सभी चीजें सिखाई जाती है जो कि एक आर्मी ट्रेनिंग पीरियड के दौरान सिखाई जाती हैं वही NCC के छात्र को हमेशा फर्स्ट preference प्रदान किया जाता है आर्मी फोर्स में क्योंकि उन्हें ट्रेनिंग के बारे में सभी चीजें पहले से ही पता होती हैं इसमें सभी पास आउट क्रेडिट को वह personality होती है जो कि फोर्स में जरूरत होती है। आज हमने आपको एनसीसी की फुल फॉर्म के बारे में बताया अब हम एनसीसी  के काम के बारे में बताएंगे कि ऐसी सी कैसे काम करती है तो चलिए आपको उसके बारे में बताते हैं.

NCC का इतिहास

आपको बता दें कि पंडित जवाहरलाल नेहरू ने एनसीसी NCC के विकास में काफी योगदान दिया है. उन्होंने NCC के सिलेबस को बदला और उसके उसको और काफी आसान बना दिया एनसीसी के सिलेबस में आत्मरक्षा और युद्ध स्तर पर रणनीति शामिल नहीं थी। जिसको पंडित जवाहरलाल नेहरू ने शामिल किया एनसीसी की अंतर्गत का इस अस्त्र हथियार चलाने का भी परीक्षण भी सैनिकों को दिया जाता है साल 1950 में एनसीसी में वायु को भी जोड़ दिया गया. उसके बाद एनसीसी और भी ज्यादा मजबूत हो गई.

एनसीसी NCC को हिंदी में क्या कहते हैं

आपको बता दें कि एनसीसी NCC को हिंदी में राष्ट्रीय सैनिक दल छात्र बोला जाता है और अंग्रेजी में नेशनल कैडेट कॉर्प्स कहा जाता है अगर बात की जाए इसकी स्थापना कब हुई तो आपको बता दें कि इसकी स्थापना भारत की आजादी के कुछ समय बाद 16 अप्रैल 1948 को पंडित हरादया नाथ कुंजरुकी अगुवाई में की गई और इससे उजागर 15 जुलाई 1948 में किया गया था.

 सबसे पहले इसकी शुरुआत 1666 में ही जर्मनी में किया गया था इसका  गवर्नमेंट ऑफ यूनाइटेड किंगडम को दिया जाता है जब 1948 में एनसीसी की स्थापना हुई भारत में हुई थी तब इसका मुख्यालय दिल्ली था और आज वर्तमान में इसका मुख्यालय दिल्ली ही है.

एनसीसी NCC का मुख्य लक्ष्य क्या था

आपको बता दें कि एनसीसी NCC का मुख्या लक्ष्य सेना को सहायता प्रदान करने के लिए गठित किया गया था जिसमें वह सफल भी हुई एनसीसी की टैगलाइन के लिए 11 अगस्त 1968 में चर्चा शुरू की गई थी

एनसीसी को अलग-अलग टैगलाइन जैसे कर्तव्य एकता और अनुशासन जैसे टैगलाइन भी मिले बाद में काफी चर्चा के बाद एकता और अनुशासन का चुनाव किया गया एनसीसी का लक्ष्य युवा युवाओं में अनुशासन, चरित्र भाईचारा जैसे गुण डालने हैं एनसीसी के जरिए आर्मी के सेनाओं को मदद मिल सके इसके लिए पहले से ही लोगों को ट्रेनिंग प्रदान करती है,

एनसीसी डे कब मनाया जाता है आपको बता दें कि एनसीसी डे हर साल नवंबर महीने के चौथे रविवार को मनाया जाता है.

एनसीसी NCC में प्रवेश?

यदि आप एनसीसी में प्रवेश लेना चाहते हैं तो आपके पास क्या क्या योग्यता होनी चाहिए आप नीचे दिए गए लिस्ट को पढ़कर समझ सकते हैं

 सबसे पहले आपको बता दें कि एनसीसी में दो भाग होते हैं आपकी उम्र पहले भाग में कम से कम 17 से 17 वर्ष होनी अनिवार्य है उसके बाद दूसरे भाग का बात की जाए तो इसमें आपकी उम्र 19 से 24 वर्ष की होनी चाहिए एनसीसी में दाखिल लेने के लिए पुरुषों की लंबाई 157. 5 सेंटीमीटर होनी चाहिए जबकि महिलाओं की 152 सेंटीमीटर होनी चाहिए छात्र चुस्त और दुरुस्त होना चाहिए विद्यार्थी की कोई भी शारीरिक विकलांगता नहीं होनी चाहिए ऐसे वह एनसीसी को ज्वाइन कर सकता है.

एनसीसी NCC join कैसे करे?

यदि आप एनसीसी ज्वाइन करना चाहते हैं तो आपको फिजिकली टेस्ट देना पड़ता है या टेस्ट स्कूल में पढ़ने वाले छात्र ही दे सकते हैं यदि आप इस टेस्ट में पास हो जाते हैं तो आप एनसीसी की ट्रेनिंग शुरू कर सकते हैं.

Read More: ITI ka Full Form Kya Hai

एनसीसी NCC का झंडा

आपको बता दें कि एनसीसी के झंडे को 1954 में डिजाइन किया गया था या एक तिरंगा झंडा था जिसमें 3 रन लाल नीली और आसमानी है इस झंडे के बीच में बड़े अक्षरों में एनसीसी लिखा गया है.

 इसके किनारों पर बॉर्डर बनाया गया है झंडे में तिरंगे के नीचे एनसीसी का टैगलाइन भी मौजूद है जिसमें लिखा गया है एकता अनुशासन यदि आप एनसीसी में कभी जॉइन होते हैं तो आप ही है झंडा देख सकते हैं यदि आप इस झंडे को देखना चाहते हैं तो आप इसे ऑनलाइन सर्च करके भी देख सकते हैं.

यदि आप एनसीसी ज्वाइन करना चाहते हैं तो आपको स्कूल और कॉलेज में ही एनसीसी ज्वाइन करना पड़ेगा क्योंकि एनसीसी केवल स्कूल और कॉलेज के छात्रों को ही लेती है जिनकी उम्र कम होती है क्योंकि एनसीसी उन्हें शुरू से ही अनुशासित और देश भक्ति वाला युवा पीढ़ी बनाना चाहती है इसलिए वह स्कूल और कॉलेज के छात्र को ही चुनौती है

 जिसके अंदर थल सेना ने उसे नौसेना और वायुसेना त्रिकोणीय सेवा संगठन ग्रुप शामिल होते हैं जिनमें आप मर्जी से से शामिल हो सकते हैं इस ग्रुप से जुड़ने वाले व्यक्ति को मिलिट्री सेना से जुड़े सभी ट्रेनिंग दी जाती है अगर आप सेना में भर्ती होना चाहते हैं तो आप एसएससी को ज्वाइन कर सकते हैं.

NCC में Certificates

आपको बता दें कि एनसीसी में सर्टिफिकेट भी होते हैं जिसका बहुत ही फायदा होता है जब एनसीसी ज्वाइन करते हैं तो इसके लिए बहुत से सोशल एक्टिविटीज कार्य किए जाते हैं और एक्टिविटीज कार्य करते समय सदस्य के अंदर लीडरशिप स्किल कम्युनिकेशन आदि डेवलप्ड होते हैं .एनसीसी में तीन सर्टिफिकेट लिए जाते हैं जो कि कैटेगरी के आधार पर होते हैं ए सर्टिफिकेट बी सर्टिफिकेट और सी सर्टिफिकेट दिए जाते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments