Friday, October 7, 2022
Homefull formsUPS का फुल फॉर्म क्या होता है?

UPS का फुल फॉर्म क्या होता है?

अगर आप कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं तो आपने यूपीएस UPS का नाम तो सुना ही होगा। क्योंकि यह एक ऐसी डिवाइस है जो कंप्यूटर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है। लेकिन कई बार देखा जाता है कि हम बहुत सी चीजों का इस्तेमाल करते हैं या देखते हैं लेकिन उनके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती है। अगर आप कंप्यूटर का इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन आपको उसमें इस्तेमाल होने वाले यूपीएस UPS के बारे में जानकारी नहीं है।

इसी तरह की और भी कई उपयोगी जानकारियां जिनके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे। और इसमें कोई शक नहीं कि अगर आप Google पर आते हैं तो UPS क्या है? तो आज हम बात करेंगे UPS क्या होता है, UPS का फुल फॉर्म क्या होता है, UPS को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

UPS का फुल फॉर्म

यूपीएस UPS का फुल फॉर्म Uninterruptible Power Supply है। UPS को हिंदी में अबाधित विद्युत आपूर्ति कहा जाता है।

UPS क्या है?

  • UPS कंप्यूटर से जुड़ा एक प्रकार का उपकरण device है। जो कंप्यूटर कनेक्शन डिवाइस को उचित बिजली की आपूर्ति करता है। सरल भाषा में कहें तो UPS एक ऐसा उपकरण device है जो बिजली जाने के बाद भी आपके कंप्यूटर/सीपीयू और इससे जुड़े अन्य उपकरणों को बिजली की आपूर्ति करता है।
  • ताकि आपका कंप्यूटर एक साथ बंद न हो। और अगर आप अपनी सभी फाइलों को आसानी से सेव कर सकते हैं। यह लगभग 30 से 40 मिनट तक कंप्यूटर को आपूर्ति प्रदान करता है। यह तो सभी जानते हैं कि हमारा कंप्यूटर/सीपीयू कई तरह के उपकरणों से मिलकर बना होता है। जिन्हें सही समय पर बंद करने की जरूरत है। और अगर आप इन्हें समय पर बंद नहीं करते हैं, तो इनके भ्रष्ट corrupt होने का खतरा बढ़ जाता है। और आपके कंप्यूटर का डेटा भी खो सकता है।
  • यही कारण है कि UPS का उपयोग कंप्यूटर के साथ किया जाता है। क्योंकि अगर आप इसका इस्तेमाल नहीं करते हैं तो बेशक बिजली जाने के बाद आपका कंप्यूटर अपने आप बंद हो जाएगा। जिससे आपके कंप्यूटर में मौजूद हार्ड डिस्क के खराब होने की संभावना बढ़ जाती है।

Read More: Pin ka Full Form Kya Hota Hai

UPS कैसे काम करता है?

  1. यूपीएस UPS के अंदर एक स्मार्ट सर्किट बोर्ड होता है जिसमें कई डिवाइस होते हैं।
  2. इस यूपीएस UPS सर्किट में एसी (Alternative Current) को डीसी (Direct Current में बदलने के लिए एक रिटिफायर सर्किट होता है जो यूपीएस की बैटरी को चार्ज करता है।
  3. इसके साथ ही बैटरी से निकलने वाले डीसी करंट को एसी में बदलने के लिए इनवर्टर सर्किट लगाया जाता है। यह पूरी प्रक्रिया यूपीएस में मौजूद स्मार्ट पीसीबी के तहत नियंत्रित होती है। और जैसे ही बिजली चली जाती है, पीसीबी PCB बैटरी से करंट निकालता है और कंप्यूटर को एसी करंट प्रदान करता है।

UPS के प्रकार

विद्युत ऊर्जा आपूर्ति घुसपैठ intrusions विभिन्न रूपों में आ सकती है जैसे सर्ज, वोल्टेज डिप्स, वोल्टेज स्पाइक्स और हार्मोनिक्स। ये गड़बड़ी बिजली के गियर को गंभीर नुकसान पहुंचा सकती है, ज्यादातर उत्पादन चरणों या किसी ऑपरेशन के महत्वपूर्ण प्रसंस्करण के दौरान। बिजली आपूर्ति विकृति के जोखिम को कम करने के लिए, यूपीएस UPS सिस्टम को अक्सर विद्युत नेटवर्क में एकीकृत integrated किया जाता है।

इलेक्ट्रॉनिक बिजली आपूर्ति उपकरण निर्माता विभिन्न विद्युत लोड गियर के लिए निरंतर, उच्च गुणवत्ता वाले बिजली प्रवाह की पेशकश कर सकते हैं और ये उपकरण आमतौर पर औद्योगिक प्रसंस्करण अनुप्रयोगों, चिकित्सा सेवाओं, आपातकालीन गियर, दूरसंचार और कम्प्यूटरीकृत डेटा सिस्टम में पाए जाते हैं। सटीक बिजली आपूर्ति प्रदर्शन सुनिश्चित करने के लिए यूपीएस UPS सिस्टम एक सहायक उपकरण हो सकता है।

UPS मुख्य रूप से 3 प्रकार के होते हैं, जिनके बारे में हमने नीचे विस्तार से बताया है –

  • Standby UPS.
  • Line iterative UPS.
  • Standby Online Hybrid.

Standby UPS:

यह यूपीएस UPS सबसे आम यूपीएस है। मूल रूप से इसका उपयोग पर्सनल कंप्यूटर के लिए किया जाता है। स्टैंडबाय यूपीएस UPS कंप्यूटर की बिजली आपूर्ति बंद होने पर कंप्यूटर को खपत बिजली की आपूर्ति प्रदान करता है ताकि कंप्यूटर में मौजूद डेटा सुरक्षित रहे।

Line Iterative UPS :

यह यूपीएस UPS स्टैंडबाय यूपीएस के समान है लेकिन इसका उपयोग छोटे व्यवसाय, वेब आदि के लिए किया जाता है। इसे इस तरह से बनाया गया होगा कि इसकी बैटरी के एसी पावर कन्वेयर का मतलब है कि लाइन इटरेटिव यूपीएस UPS का इन्वर्टर हमेशा आउटपुट से जुड़ा रहता है। हम कह सकते हैं कि यह यूपीएस UPS ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों का मेल है।

Read More: Swift Code ka Full Form Kya Hota Hai

Standby Online Hybrid:

स्टैंडबाय ऑनलाइन हाइब्रिड एक प्रकार की टोपोलॉजी है जिसका उपयोग विशेष रूप से 10KvA के लिए किया जाता है। इसका चार्जर स्टैंड बाई यूपीएस की तरह बहुत छोटा है।

यूपीएस UPS के फायदे

  1. यह आने वाले अतिरिक्त बिजली वोल्टेज को नियंत्रित करता है, जो हमारे कंप्यूटर को सुरक्षित रखता है।
  2. मुख्य बिजली बंद होने के बाद भी यह ठीक से काम करता है।
  3. यह तो सभी जानते हैं कि अगर आपका कंप्यूटर अचानक बंद हो जाता है तो कंप्यूटर में मौजूद हार्ड डिस्क, डेटा के खराब होने की संभावना अधिक होती है। लेकिन अगर आप Ups का इस्तेमाल करते हैं तो आपके साथ ऐसा बिल्कुल नहीं होगा। क्योंकि सप्लाई जाने के बाद यूपीएस करीब 30 मिनट तक सही कंप्यूटर सप्लाई करता है।
  4. ये यूपीएस UPS इस तरह से बनाए गए हैं कि अगर मेन लाइट चली जाए तो आप अपने घर की लाइट यानी इन्वर्टर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments