Saturday, August 13, 2022
HomeGeneralएल्गोरिदम Algorithm को हिंदी में क्या कहते हैं?

एल्गोरिदम Algorithm को हिंदी में क्या कहते हैं?

आज हम बात करने वाले हैं एल्गोरिदम algorithm क्या है, इसका क्या उपयोग है एल्गोरिदम algorithm प्रयोग कहा किया जाता है .एल्गोरिदम algorithm के क्या फायदे हैं .इसके बारे में हमको सही जानकारी देंगे ,चलिए आपको इसके बारे में बताते हैं.

Algorithm क्या है?

किसी भी समस्या का चरणबद्ध तरीके से समाधान निकालने की प्रक्रिया को एल्गोरिदम Algorithm कहते हैं. इसके जरिए हम पहले प्रॉब्लम को छोटे-छोटे हिस्सों में बांट कर उसे सॉल्व solve करते हैं. इस प्रॉब्लम के सलूशन solution को किसी काम को करने का प्रोसीजर या फार्मूला procedure or formula भी कहा जा सकता है, इसलिए इसे एक डेली लाइफ एग्जांपल daily life example से समझते हैं.

 मान लीजिए कि आप हॉट कॉफी बनाना चाहते हैं तो इसके लिए हम सबसे पहले गैस ऑन करेंगे ,हम उसके बाद  बर्तन में दूध डालकर गर्म करेंगे। स्वाद अनुसार कॉफी पाउडर चीनी डालेंगे उबालने का इंतजार करेंगे। आप गैस बंद करेंगे। आपकी हॉट कॉफी तैयार है। इस उदाहरण से आपको अलग Algorithm क्या है और कैसे लिखा जाता है इसके बारे में पता चल गया होगा, यह बहुत ही बेसिक एग्जांपल है। लेकिन कंप्यूटर प्रोग्रामिंग क्षेत्र में लिखे जाने वाले बहुत ही कठिन होते हैं.

कंप्यूटर एल्गोरिथम क्या है?

आपको बता दें कि एल्गोरिथ्म algorithm का प्रयोग ज्यादातर कंप्यूटर प्रोग्रामिंग computer programming के field में किया जाता है। अगर हम कहें कि आपका कंप्यूटर पूरी तरह से algorithm के द्वारा चलता है , तो इसमें कोई गलत बात नहीं होगी। कंप्यूटर को किसी भी तरह से काम करने के लिए कंप्यूटर प्रोग्राम में या सॉफ्टवेयर की जरूरत पड़ती है. प्रोग्रामिंग में हमें स्टेप बाय स्टेप इंस्ट्रक्शन step by step instructions लिखनी होती है. और इन्हीं coding के माध्यम से बताना होता है। कि कौन सा काम कैसे करना है. इन्हीं well-defined स्टेप को और algorithm कहा जाता है।  इसे कोडिंग करने से पहले ही तैयार कर लिया जाता है और इसी के अनुसार कोड लिखे जाते हैं एल्गोरिदम Algorithms से फ्लोचार्ट flowcharts भी बनाया जाता है जो कि पूरे प्रोसेस को graphical के लिए तरीके से रिप्रेजेंट represent करता है.

एल्गोरिथम algorithm का उपयोग क्यों करते हैं?

जैसा कि आपको हमें पहले ही बताया कि एल्गोरिदम algorithm किसी भी समस्या को सुलझाने के लिए एक स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस step by step process  है. असल जिंदगी में आपने देखा होगा कि यदि कोई समस्या आ जाए जब तो हम परेशान हो जाते हैं. और कई बार हमें समझ नहीं आता कि हम उस काम को कंप्लीट complete कैसे करें। और कहां से शुरू करें लेकिन अगर हम इसके लिए कोई स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस बना लेते है तो वह काम बहुत ही आसान हो जाता है. एल्गोरिदम algorithm के जरिए हम प्रॉब्लम के सलूशन solution को स्टेप बाय स्टेप step by step तरीके से दर्शाते हैं ,फिर उन सब को फॉलो करके समस्या को सुलझा लेते हैं.

एल्गोरिदम algorithm का उद्देश्य किसी task को perform करके output प्राप्त करना होता है। इसमें समस्या के अनुसार कई सारे निश्चित स्टेप होते हैं. जब तक सारे स्टेप 1 सिक्वेंस sequence में कंप्लीट completed नहीं हो जाते,हमें  output नहीं मिलता है। इस प्रोसेस के बीच कुछ कंडीशन condition भी आ सकती हैं। उसके अनुसार स्टेप चेंज भी हो सकता है। लेकिन यह सभी स्टेप्स पहले तैयार किए जाते हैं.

Read More: KBPS ka Full Form Kya Hai

Characteristics of Algorithm

Finiteness:आपके एल्गोरिदम algorithm में हमेशा में कुछ steps होना चाहिए एक लिमिटेड के बाद अलग algorithm steps खत्म हो जाना चाहिए।

Input: प्रॉब्लम के सलूशन के लिए हमें कुछ ना कुछ चीजों की आवश्यकता होती है जिसे हम इनपुट कहते हैं एल्गोरिदम में 0 या इससे अधिक इनपुट हो सकते हैं.

Output:हमें स्टेप फॉलो करने के बाद क्या आउटपुट output मिलेगा यह भी पहले से ही डिफाइंड defined होना चाहिए।

Unambiguous (स्पष्ट): प्रोसेस पूरी तरह से स्पष्ट होना चाहिए ऐसा algo जो कन्फ्यूजन पैदा करता है। हमारा समय और अन्य रिसोर्सेज resources बर्बाद कर सकता है.

Feasible: हम जो task perform करने जा रहे हैं, वह संभव है, क्या हमारे पास उपलब्ध डाटा या रिसोर्सेज data or resources से उस काम को किया जा सकता है. अगर हां तो हम एल्गोरिदम algorithm को बना सकते हैं.

Algorithm का कहाँ उपयोग होता है?

एल्गोरिदम algorithms का उपयोग मैथमेटिक्स साइंस ,कंप्यूटर प्रोग्राम ,आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ,मेडिकल जैसे क्षेत्रों में अधिक होता है. इसे लाइफ में प्रयोग किया जाता है हम अपनी हर रोज कुछ ना कुछ ऐसे काम करते हैं जिसमें algorithms का प्रयोग होता है. लेकिन हमें उसके बारे में जानकारी नहीं होती है। तो आज हम आपको कुछ ऐसे ही रोजमर्रा के कामों के बारे में बताएंगे जहां हम अलग algorithms का उपयोग करते हैं.

 

Facebook Algorithm:

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हम सभी लोग रोजाना फेसबुक चलाते हैं क्या आपने कभी सोचा है कि क्यों कोई पोस्ट वायरल हो जाती है जबकि कुछ पोस्ट लोगों के likes ही नहीं मिलते।

इसके पीछे एक जटिल एल्गोरिथम है। जो सिर्फ उन पोस्ट को वायरल होने देता है।जिससे लोग पसंद करते हैं, सिर्फ यही नहीं इसके अलावा फेसबुक हर काम के लिए algorithms का उपयोग करता है केवल फेसबुक Facebook ही नहीं बल्कि सारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म algorithms का उपयोग करते हैं.

Google Search Algorithm:

इंटरनेट पर करोड़ों की संख्या वेबसाइट है लेकिन गूगल Google पर कुछ सर्च किया जाए तो सर्च इंजन केवल उन्हीं पेज को दिखाता है. जो टॉप रिजल्ट में दिखती हैं. ऐसा क्यों क्योंकि दरअसल गूगल सर्च इंजन वेबसाइट को उनकी क्वालिटी के आधार पर rank करता है. और अच्छी साइट को पहले पेज पर दिखाता है। इस काम के लिए रैंकिंग एल्गोरिथ्म ranking algorithm का प्रयोग किया जाता है.

एल्गोरिथम के क्या फायदे हैं?

एल्गोरिदम Algorithm किसी भी प्रॉब्लम के सलूशन solution को छोटे-छोटे भाग में डिवाइड कर देता है। जिससे उसे समझना आसान होता है। स्टेप बाय स्टेप सलूशन प्रोवाइड करता है. जिससे हमें क्लियर बात का पता चलता है।

टास्क को कंप्लीट करने के लिए हमें किन-किन चीजों की जरूरत होती है। यह  पहले तय किया जाता है. डिसीजन मेकिंग को आसान बनाता है. Algorithm बनाने के बाद इसका कोड ऐसी किसी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में लिखा जा सकता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments