Saturday, August 13, 2022
Homefull formsई डी आई EDI का फुल फॉर्म क्या है?

ई डी आई EDI का फुल फॉर्म क्या है?

आपको बता दें कि ई डी आई EDI का मतलब होता है standardized format फॉर्मेट हां यदि आप अभी समझ नहीं आया तो आपको इसके बारे में विस्तार पूर्वक बताते हैं इसका काम है एक जानकारी को इलेक्ट्रॉनिक डाटा इंटरचेंज Electronic Data Interchange करना यह ऐसी प्रक्रिया है जिसका उपयोग ऑफलाइन किसी कंपनी को जानकारी भेजने की बजाय ऑनलाइन इलेक्ट्रॉनिक रूप में जानकारी भेजा जाता है.

आपको बता दें EDI का ज्यादातर उपयोग उन कंपनियों द्वारा किया जाता है जिन का कार्य है ऑनलाइन ज्यादा होता है, जिनका उपयोग इलेक्ट्रॉनिक रूप से ज्यादा निर्भर होता है जिन्हें बिजनेस पार्टनर भी कहा जाता है। ऐसा नहीं है कि ई डी आई EDI का उपयोग अभी-अभी होना शुरू हुआ है इसका उपयोग को पहले भी होता था और आज भी चालू है. 1960 के दशक में इसका उपयोग कंप्यूटर एक्सचेंज टू कंप्यूटर के द्वारा किया जाता था। जिसमें कंपनी के व्यवसायिक दस्तावेजों को कंप्यूटर की मदद से ऑनलाइन भेजा और प्राप्त किया जाता था. EDI का उपयोग करके ऑनलाइन कई महत्वपूर्ण Business documents का भी लेनदेन किया जा सकता है लेकिन ज्यादातर परचेज ऑर्डर और invoices इसका उपयोग किया जाता है.

आपको बता दें कि ई डी आई EDI ने मेल भेजने के काम और को हैंडलिंग करना और आसान बना दिया है. EDI का यूज आजकल ज्यादा किया जाता है क्योंकि इसमें पहले की तरह पेपर वर्क काम नहीं करना पड़ता इसने पेपर वर्क को कम कर दिया है. EDI मुख्य रूप से आपके द्वारा किए जा रहे दो ऑफलाइन काम की जगह ले लेता है पहले है कि आप अब आप आम जीवन में कागज का इस्तेमाल करते हैं उसकी जगह इलेक्ट्रॉनिक कागज ले ली है। दूसरा यह है कि जब भी आप किसी को कागज डॉक्यूमेंट भेज ना होता है तो आप खुद जाकर देख कर दे कर आते हैं या पोस्ट ऑफिस की मदद लेते हैं लेकिन इलेक्ट्रॉनिक मेल ने इसकी जगह ले लिया।   ईडीएआई  EDI आपकी कंपनी के समय और धन को बचा सकती है और आपके एक बेहतर व्यवसाय का भागीदार बना सकती है इसकी मदद से व्यापार करना आसान हो जाता है और आप हर दिशा में व्यापार कर सकते हैं.

EDI full form फुल फॉर्म

आपको बता दें कि EDI का फुल फॉर्म है इलेक्ट्रॉनिक डाटा इंटरचेंज Electronic Data Interchange जिस का हिंदी में मतलब होता है इलेक्ट्रॉनिक सूचना का आदान प्रदान.

EDI कैसे काम करता है?-

इसे समझने के लिए एक एग्जांपल लेते हैं मान लीजिए आप एक बिजनेस चलाना चाहते हैं और आपको पार्टनर को डॉक्यूमेंट भेजने हैं तो सबसे पहले आपको सारे डॉक्यूमेंट तैयार करने हैं अपने डॉक्यूमेंट को इसी फॉर्मेट में ट्रांसलेट कर लें उसके बाद से आप अपने बिजनेस पार्टनर के साथ कनेक्ट होकर उसे यह डॉक्यूमेंट आंसर कर सकते हैं.

Read More: JPG ka Full Form Kya Hai

EDI system क्या है?-

EDI का प्रयोग करके व्यवसायों के बीच डाटा के आदान प्रदान करने के लिए सॉफ्टवेयर का प्रयोग करना EDI सिस्टम कहलाता है. होस्टिंग प्रोवाइडर के जरिए कुछ EDI सिस्टम को एक्सेस किया जा सकता है अधिकांश EDI सिस्टम घर में तैनात और प्रबंधित होते हैं EDI सिस्टम का कई दशकों से प्रयोग किया जा रहा है और आप के व्यापारिक भागीदारों के साथ डाटा का आदान प्रदान करने के लिए एक तेज विश्वसनीय नहीं है कम लागत वाला साधन प्रदान कर रहा है.

EDI works on the basis of four main components-

Standards

Translation software

Integration

Communication (VAN) Communication (VAN)

EDI e commerce

आपको बता दें कि EDI e commerce आयोजित करने का एक तरीका है यह एक इलेक्ट्रॉनिक है इसलिए तकनीकी रूप  से यह एक EDI e commerce है जिसका काम दस्तावेजों को प्रसारित करना और खरीद और बिक्री की प्रक्रिया को करना है यदि शॉर्ट फॉर्म में बात करें तो ई डी आई का प्रयोग आर्डर को लेने के लिए होता है ऑर्डर को बुक करने के लिए  घर तक पहुंचने के लिया  भी इसका ही काम होता है.

Types of EDI

Direct EDI/Point-to-Point

Mobile EDI

EDI Outsourcing

EDI Software

EDI via VAN or EDI Network Services Provider

EDI via AS2

EDI via FTP/VPN, SFTP, FTPS

Web ED

EDI का इस्तेमाल क्यों किया जाता है-

EDI का प्रयोग डॉक्यूमेंट का आदान प्रदान करने के अलावा कई प्रकार से होता है जैसे आदान प्रदान करने की क्षमता मैनुअली रूप से बढ़ा सकते हैं। आप इसे डाटा एंट्री Data entry में आने वाली Error को खत्म कर सकते हो. इसमें ट्रांजैक्शन को वेरीफाई करने के लिए कंटेंट को वेरीफाई करने की सुविधा उपलब्ध है. जिसमें EDI standards और software की मदद ली जाती है. EDI के कई प्रकार Version उपलब्ध है जिसमें कम लागत और अधिक लागत वाले आए हैं काम को तेजी और सुरक्षा के साथ करने वाले हैं EDI मॉडल का पहला काम डॉक्यूमेंट को एक्सचेंज करना है.

कभी-कभी जब आप बिजनेस को शुरू करते हैं या बिजनेस पार्टनर वेंडर्स को काम करने के लिए आप EDI का उपयोग करते हैं। ई डी आई EDI का प्रयोग करके आप चालान की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

जानिए कैसे, कंपनी को किसी ग्राहक को चालान भेजना होता है तो वह क्या करती है वह अपने कंप्यूटर सिस्टम में चालान को तैयार करती है उसके बाद उस चालान का प्रिंट निकालती है, फिर ऑफलाइन से कस्टमर को भेजती है जब कस्टमर को चालान मिलता है तो वह अपनी तरफ से पूरे प्रोसेस को कंप्लीट करता है जिसमें वह कंप्यूटर की मदद लेता है उसके बाद प्रिंट निकाल कर  और बाकी प्रोसेस को कंप्लीट करता है. जिसे बहुत ज्यादा टाइम वेस्ट होता है इस काम को आसान करती है सारे प्रोसेस को ऑनलाइन करने में मदद करती है एक सॉफ्टवेयर होता है. उसके Product की purchasing से लेकर उसके पास Product Deliver होने के बीच तक जो भी कागजी काम होते है उसे आप EDI Software के द्वारा कर सकते है

हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले यदि आप हमें कोई सुझाव देना चाहती हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments