Saturday, August 13, 2022
Homefull formsUG का फुल फॉर्म क्या होता है ?

UG का फुल फॉर्म क्या होता है ?

अब जो छात्र 10वीं या 9वीं में हैं, उनके मन में एक सवाल है कि 12वीं के बाद क्या करें, 12वीं के बाद कौन से कोर्स करें और 12वीं के बाद कौन से कोर्स कर सकते हैं, 12वीं के छात्रों के मन में भी यह सवाल है। ऐसे ही सवाल घूमते रहते हैं, आज इस लेख में मैंने कोशिश की है कि मैं आपको सारी जानकारी दे सकूं कि आप 12वीं के बाद कौन से कोर्स कर सकते हैं।

इसमें आमतौर पर अंडर ग्रेजुएट डिग्री तक के सभी पोस्ट सेकेंडरी प्रोग्राम शामिल होते हैं। उदाहरण के लिए, संयुक्त राज्य अमेरिका में, एक प्रवेश स्तर के विश्वविद्यालय के छात्रों को स्नातक के रूप में जाना जाता है, जबकि उच्च डिग्री वाले छात्रों को स्नातकोत्तर छात्रों के रूप में जाना जाता है। आज हम बात करेंगे UG क्या होता है,I UG का फुल फॉर्म क्या होता है, UG को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

UG का फुल फॉर्म

UG का फुल फॉर्म Undergraduate होता है। हिंदी में इसे अंडर ग्रेजुएट डिग्री कहा जाता है।

UG क्या होता है?

हम असमंजस में होते कि क्या करें? नौकरी करें या अपनी पढ़ाई जारी रखें? ऐसे में किसी भी प्रतिष्ठित और सरकारी मान्यता प्राप्त संस्थान से यूजी/पीजी करना आपके लिए तब बहुत फायदेमंद हो सकता है, जब आप अपने कॉलेज के दौरान स्नातक की डिग्री जैसे- B.com/BBA/BA/BSC/BCA/B.Tech/ कर रहे हों। जिंदगी। BE/ BESc/ BSE/ BASc/ B.Tech आदि इसे पूरा करते हैं।

तो तुम ग्रेजुएट हो जाओ। लेकिन जब आप बैचलर डिग्री की पढ़ाई करते रहते हैं तो उस समय आपको यूजी यानी अंडर ग्रेजुएशन कहा जाता है।

UG = Under Graduation

Read More: IDE ka Full Form Kya Hota Hai

PG क्या होता है

जब आप अपनी स्नातक यानि स्नातक की डिग्री प्राप्त करते हैं, उसके बाद जब आप उसी पाठ्यक्रम में मास्टर डिग्री प्राप्त करते हैं तो आपको स्नातकोत्तर माना जाता है जैसे – M.com / MSC / MCA / M.Tech आदि।

यह उसी कोर्स या ग्रेजुएशन का एडवांस वर्जन है जो आपने पहले किया है, ग्रेजुएशन पूरा होते ही आपको ग्रेजुएट माना जाता है और ग्रेजुएशन की एडवांस डिग्री लेने के बाद आप पोस्ट ग्रेजुएट बन जाते हैं।

PG = Post Graduation

पीजी = पोस्ट ग्रेजुएट

पीजी एक मास्टर डिग्री है.

UG क्या है पूरी जानकारी

यूजी UG यह भारत में स्नातक की एक प्रणाली है। इसे दो भागों में बांटा गया है, पहला अंडर ग्रेजुएशन (UG) के रूप में जाना जाता है और दूसरे को पोस्ट ग्रेजुएशन (पीजी) के रूप में जाना जाता है। आजकल ये दो नाम UG & PG बहुत लोकप्रिय हैं। अगर कोई यूजी और पीजी कोर्स करता है, तो वह सीधे कहता है कि वह पीजी या यूजी PG or UG कोर्स कर रहा है।

जैसा कि आप में से ज्यादातर लोगों को पता होगा कि 12वीं के बाद हम यूजी करते हैं और यूजी करने के बाद पीजी PG कोर्स कर सकते हैं। यूजी का मतलब अंडरग्रेजुएट और पीजी का मतलब पोस्ट ग्रेजुएशन है। हम बारहवीं कक्षा के बाद यूजी कोर्स कर सकते हैं, जिसमें 3 साल का कोर्स होता है। जिसमें हम अलग-अलग तरह के डिग्री कोर्स कर सकते हैं। जिसे हम बैचलर डिग्री कहते हैं।

Read More: USSR ka Full Form Kya Hota Hai

UG के लिए योग्यता

किसी भी छात्र को यूजी UG करने के लिए कम से कम 12वीं पास होना अनिवार्य है। सबसे पहले हम 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद अंडरग्रेजुएट कोर्स यानि यूजी कोर्स करते हैं। जिसमें हमारे पास पसंदीदा विषय होते हैं जिसके अनुसार छात्र अपने 4 पसंदीदा विषयों का चयन करते हैं और स्नातक की डिग्री या स्नातक की डिग्री प्राप्त करते हैं। यह कोर्स 3 साल का होता है, जिसमें अलग-अलग कोर्स होते हैं जैसे:-

बी.कॉम

बी 0 ए 0

बीएससी….आदि

इन कोर्सेज को करने के लिए छात्र को 12वीं कक्षा में प्राप्त अंकों के अनुसार चार विषयों का अध्ययन करना होता है, जिस भी विषय में उसे अच्छे अंक मिलते हैं, उसे उसी विषय से यूजी UG कोर्स करने की सलाह दी जाती है और 3 साल बाद उसे ग्रेजुएशन करना होगा, जिसके बाद डिग्री प्राप्त होती है।

Undergraduate के लिए सर्वश्रेष्ठ कॉलेज

  • Lady Shri RAM college for women,University of Delhi
  • St.Stephen’s college, University of Delhi
  • St. Xavier’s college Kolkata
  • Madras Christian college
  • University college , Thiruvananthapuram
  • Ferguson college , Pune
  • Presidency college , Chennai
  • Government Home Science college ,Chandigarh
  • Ramakrishna Mission Vidyamandira,Howard
  • Deen Day-Lewis Upadhyaya college ,New Delhi

UG Course में दाखिला कैसे लें?

यूजी UG कोर्स में दाखिला लेना इतना मुश्किल नहीं है अगर आपने 12वीं पास कर ली है तो आप किसी भी सरकारी कॉलेज, यूनिवर्सिटी या ओपन यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री कर सकते हैं।

इसके लिए आप सबसे पहले अपने पसंदीदा कॉलेज का फॉर्म भरें, उसके बाद आपको उस कॉलेज की एंट्रेंस एग्जाम से गुजरना होगा।

Read More: UML ka Full Form Kya Hota Hai

यदि आप प्रवेश परीक्षा में उत्तीर्ण होते हैं। तो जिस कॉलेज में आपका नाम है वहां से एक मेरिट लिस्ट जारी की जाती है, आपको कॉलेज जाकर पता करना होगा। उसके बाद कॉलेज द्वारा दस्तावेज सत्यापन किया जाता है, फिर उस कॉलेज में आपका प्रवेश होता है।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments