Saturday, August 13, 2022
Homefull formsANI का फुल फॉर्म क्या होता है ?

ANI का फुल फॉर्म क्या होता है ?

किसी भी देश में मीडिया की अहम भूमिका होती है। मीडिया के माध्यम से आम आदमी तक तत्काल सूचनाओं का आदान-प्रदान होता है। भारत में कई प्रसिद्ध चैनल हैं जो अपने चैनल के माध्यम से जानकारी प्रदान करते हैं। इन चैनलों के माध्यम से हमें विदेशों की जानकारी कुछ ही पलों में मिल जाती है। इन समाचार एजेंसियों में एएनआई एक प्रमुख एजेंसी है, यह एजेंसी एशिया की प्रमुख समाचार एजेंसी है। इस एजेंसी द्वारा प्रदान की गई जानकारी को अन्य समाचार चैनलों द्वारा मान्यता प्राप्त है। आज हम बात करेंगे ANI क्या होता है, ANI का फुल फॉर्म क्या होता है, ANI को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

ANI का फुल फॉर्म

ANI का फुल फॉर्म “Asian News International” है, यह भारत और एशिया की सबसे बड़ी एजेंसी है। इस एजेंसी को भारत सरकार द्वारा कई पुरस्कार दिए जा चुके हैं। इसकी सेवा भारत में लगभग सभी समाचार चैनलों और समाचार पत्रों द्वारा प्राप्त की जाती है। इसकी सेवा का लाभ विदेशी समाचार चैनल भी उठाते हैं। भारत सहित पूरे एशिया में इसका बहुत बड़ा नेटवर्क है, जिसके कारण इसे सबसे पहले खबरें मिलती हैं। इस एजेंसी का मुख्य व्यवसाय अपनी खबर बेचना है, इससे उसे काफी मुनाफा होता है।

ANI का क्या मतलब

एएनआई ANI एक भारतीय समाचार एजेंसी है, यह देश की सभी भाषाओं में समाचार एकत्र करती है और आम जनता तक पहुंचती है। वीडियो समाचार इस एजेंसी द्वारा बहुत बड़ी मात्रा में कवर किया जाता है। इसकी सेवा भारत के लगभग सभी समाचार चैनलों को प्राप्त होती है। इस प्रसिद्ध समाचार एजेंसी की स्थापना 9 दिसंबर 1971 को हुई थी। इसके संस्थापक प्रेम प्रकाश जी थे। फिलहाल इस मशहूर न्यूज एजेंसी के सीईओ संजीव प्रकाश हैं.

Read More: ONGC ka Full Form Kya Hota Hai

ANI काम कैसे करती है?

एएनआई ANI भारत और एशिया से समाचार एकत्र करता है और इसे अन्य समाचार चैनलों को बेचता है। इसके द्वारा प्रदान की जाने वाली खबरें भारत के प्रमुख समाचार चैनलों, समाचार पत्रों और पत्रिकाओं द्वारा खरीदी जाती हैं। इस एजेंसी का नेटवर्क बहुत बड़ा है, इसलिए सबसे पहले खबर इसी एजेंसी को मिलती है। मीडिया के क्षेत्र में सबसे पहले खबरों तक पहुंचने का प्रयास किया जाता है, इस काम में यह एजेंसी सबसे ऊपर है।

ANI के क्षेत्र

ANI समाचार एजेंसी सामान्य समाचार, मनोरंजन, जीवन शैली, व्यवसाय, राजनीति, खेल और विज्ञान से संबंधित समाचारों को कवर करती है। भारत के समाचार चैनलों के अलावा, इस समाचार एजेंसी की सेवाएं विदेशों से समाचार चैनलों को भी प्राप्त होती हैं। यह एक विश्वसनीय समाचार एजेंसी है, जिसे कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है।

ANI की सेवाएं क्यों ली जाती है

भारत और विदेशों में कई समाचार एजेंसियां हैं, लेकिन इन एजेंसियों के पास बड़ी संख्या में पत्रकार नहीं हैं, इसलिए वे अधिक समाचारों को कवर नहीं कर सकते हैं, इस समस्या को हल करने के लिए समाचार चैनलों और समाचार पत्रों द्वारा एएनआई की सेवाएं ली गईं।

TIME का क्या मतलब है?

यूरोप के शीर्ष औद्योगिक प्रबंधक (T.I.M.E.) को इंजीनियरिंग स्कूलों और तकनीकी विश्वविद्यालयों का एक नेटवर्क कहा जाता है, जिसके बिना कुछ भी संभव नहीं है। इसलिए लोगों को पूरे समय की जानकारी प्रदान करने के लिए इसमें दो शब्द AM और PM शामिल किए गए हैं, दोनों ही ऐसे शब्द हैं, जिनके माध्यम से लोग समय देखकर आसानी से अपना काम पूरा कर सकते हैं। इसलिए जब तक आपके पास AM और PM के बारे में जानकारी नहीं होगी तब तक आप समय का सही अनुमान नहीं लगा सकते जिससे आपके काम में रुकावट आ सकती है, क्योंकि इन दोनों शब्दों का प्रयोग मुख्य रूप से समय देखने के लिए किया जाता है।

Read More: BLOB ka Full Form Kya Hota Hai

AM और PM से सम्बंधित जानकारी

AM एक लैटिन शब्द है जिसका उपयोग मुख्य रूप से दोपहर से पहले के दिन का प्रतिनिधित्व करने के लिए 12 घंटे की घड़ी प्रणाली के लिए किया जाता है। इसके साथ ही इसका प्रतिनिधित्व ए.एम. AM को एंटी मेरिडीम के रूप में विस्तारित किया जाता है, जिसका अर्थ है “दोपहर से पहले” और पीएम को पोस्ट मेरिडीम के रूप में विस्तारित किया जाता है जिसका अर्थ है “दोपहर के बाद”। AM और PM दोनों शब्द 12 घंटे के समय क्षेत्र में दिन और रात के बीच अंतर करने के लिए उपयोग किए जाते हैं। दूसरी ओर, दिन के 24 घंटों को दो समय क्षेत्रों में विभाजित किया जाता है, जिनमें से प्रत्येक में 12 घंटे होते हैं। पहले १२ घंटे की अवधि मध्यरात्रि से दोपहर (१२ बजे से दोपहर १२ बजे) तक चलती है इसे एएम कहा जाता है और दूसरा १२ घंटे की अवधि दोपहर से आधी रात (१२ बजे से दोपहर १२ बजे) तक चलती है, जिसे पीएम कहा जाता है। इसलिए १२-घंटे की घड़ी प्रणाली के सभी २४ घंटों की पहचान करने के लिए AM या PM के बाद की संख्या १ से १२ का उपयोग किया जाता है।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments