Saturday, December 3, 2022
Homefull formsARMY का फुल फॉर्म क्या होता है ?

ARMY का फुल फॉर्म क्या होता है ?

दुनिया के सभी देशों की अपनी-अपनी सेना है जो देश की रक्षा करती है। इन्हीं में से हमारा देश भारत की सेना भी है, जिसे हम ARMY के नाम से जानते हैं, जब भी ARMY का नाम आता है तो लोगों के मन में जोश और उत्साह बढ़ जाता है। हमारे देश के बहुत से युवा मेहनत करके ARMY में जाना चाहते हैं। आज हम बात करेंगे ARMY क्या होता है,I ARMY का फुल फॉर्म क्या होता है, ARMY को हिंदी में क्या कहते हैं ,इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

ARMY का फुल फॉर्म?

ARMY का फुल फॉर्म “Alert Regular Mobility Young” होता है। हिंदी में इसका मतलब सतर्क नियमित गतिशील युवा होता है.

ARMY क्या होता है?

सेना हर देश का एक हिस्सा है जो देश की सीमाओं की रक्षा के लिए काम करती है। और देश की सीमाओं पर हर गतिविधि पर नजर रखें। जब देश के अंदर हालात खराब होते हैं तो सिर्फ सेना भेजी जाती है। पूरी दुनिया में चीन अकेला ऐसा देश है जिसके पास सबसे बड़ी सेना है।

और चीन के बाद भारत दुनिया की सबसे बड़ी सेना वाला देश है, जिसमें करीब 1129000 सक्रिय सैनिक और 960000 रिजर्व सैनिक हैं। जो पूरे भारतवर्ष के देशवासियों को सुरक्षा प्रदान करता है। हम कह सकते हैं कि आज हम जिस सुकन की जिंदगी से गुजर रहे हैं, वह सेना के कारण ही है। भारत की army अमेरिका, रूस और चीन के बाद दुनिया की चौथी सबसे बड़ी सेना है।

Read More: Twitter ka Hindi me Kya Matlab Hota Hai

हमारे देश की सेना army चौबीसों घंटे सीमा पर पहरा देती है और हमारे देश के सभी लोगों को सुरक्षित रखती है, यह हम सभी देशवासियों का कर्तव्य है कि हम अपने देश की सेना का सम्मान करें।

ARMY के लिए योग्यता

वैसे उम्मीदवार का भारतीय सेना में शामिल होने के लिए 10वीं और 12वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है। आपके लिए सेना के लिए अधिक शिक्षित होना आवश्यक नहीं है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि भारतीय सेना में भर्ती होने के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 17 वर्ष और अधिकतम आयु 21 वर्ष और अन्य पदों के लिए अधिकतम 23 वर्ष होनी चाहिए. Indina ARMY में भर्ती होने के लिए आपका कद अच्छा होना चाहिए, आपके शरीर का वजन 50 किलो से कम नहीं होना चाहिए और आपका शरीर मजबूत होना चाहिए। अगर यह सब आपके लिए सही है, तो आप आसानी से भारतीय सेना में भर्ती हो सकते हैं।

Indian ARMY के मूल क्षेत्र के गठ?

कमान इसकी कमान जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ के पास होती है, जिसे हम आर्मी कमांडर कहते हैं, यह पद भी लेफ्टिनेंट जनरल की तरह मुख्य पद से वरिष्ठ होता है।

कोर- यह जनरल ऑफिसर कमांडिंग द्वारा निर्देशित या कमांड किया जाता है, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रत्येक कॉर्प तीन या चार डिवीजनों से बनी होती है, भारतीय सेना में तीन तरह के कोर होते हैं, स्ट्राइक, होल्डिंग और मिक्स्ड।

Read More: Mutual Fund ko Hindi me Kya Kehte Hai

डिवीजन जैसा कि हम जानते हैं, हमारे देश की सेना में 40 डिवीजन होते हैं जिनमें चार रैपिड्स, 18 इन्फैंट्री डिवीजन, 12 माउंटेन डिवीजन, तीन बख्तरबंद डिवीजन और तीन आर्टिलरी डिवीजन शामिल हैं, प्रत्येक डिवीजन मेजर जनरल के रैंक में एक जनरल ऑफिसर की अध्यक्षता में होता है। कमांडिंग होता है।

बटालियन अगर बात करें बटालियन की तो यह चार राइफल कंपनियों से मिलकर बनी है और इसकी कमान कर्नल के हाथ में है जो बटालियन कमांडर है और इन्फैंट्री की मुख्य फाइटिंग यूनिट है।

प्लाटून यह तीन वर्गों से बना होता है, इसकी कमान प्लाटून कमांडर के पास होती है, जो एक जेसीओ है।

आर्मी का इतिहास

सेना शब्द की उत्पत्ति लैटिन शब्द अरमाटा armata से हुई है। जिसका अर्थ है सशस्त्र बल। अगर ऐसी कोई सेना है, तो वह अपने देश की रक्षा के लिए काम करती है। यह सेना जमीन और हवा पर लड़ती है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि भारत ही एकमात्र ऐसा देश है जिसने सबसे पहले सेना को संगठित किया. भारत दुनिया का दूसरा देश है जिसके पास सबसे बड़ी सेना है।

आर्मी सैनिक की कितनी सैलरी

आमतौर पर सेना army के एक जवान को 25000 रुपये से लेकर 40000 रुपये तक का वेतन मिलता है, क्योंकि जैसे-जैसे आपको उच्च पद मिलते रहेंगे, वैसे-वैसे आपका वेतन बढ़ता जाएगा।

Read More: Nifty ko Hindi me Kya Kehte Hai

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments