कॉन्टैक्टलेस पेमेंट सिस्टम (Contactless Payment System) क्या है इसके क्या फायदे हैं जानिए

0
72
Contactless Payment System

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि आजकल लोग ऑनलाइन पेमेंट का चलन ज्यादा चल गया है लोग इसका उपयोग यूपीआई पेमेंट के द्वारा qr-code के द्वारा आसानी से कर लेते हैं. ऐसे ही हम बात करने वाले हैं एक टेक्निक का जिसको हम कांटेक्टलेंस Contactless पेमेंट के नाम से भी जानते हैं कांटेक्ट लेंस Contactless payment पेमेंट क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड की तरह काम करता है जिसमें radio-frequency का इस्तेमाल होता है यह एक विद्युत चुंबकीय की सहायता से काम करती जिसमें कार के ऊपर एक खुद में ग्राहकों की सभी जानकारियां सेव करके रखता है यह कई हफ्ते मोबाइल पेमेंट से अलग है इसमें ईवीएम नामक एक कांटेक्ट पेमेंट कार्ड होता है जो कि एटीएम में भी काम करता है ग्राहकों के सभी आवश्यक जानकारी इस कार्ड में मैग्नेटिक स्ट्रिप में सुरक्षित होती है इसके द्वारा ग्राहक बिना पिन नंबर के भी पेमेंट कर सकता है.

कांटेक्टलेस पेमेंट Contactless डेबिट कार्ड

आपको बता दें कि एसबीआई ने कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड की शुरवात की है क्योंकि भारत में एक सर्वे के अनुसार पता चला कि लोग ₹2000 के नीचे ही लेनदेन करते हैं भारतीय बैंक अनुसार ₹2000 के नीचे के लिए दिन के लिए पिन आवश्यकता नहीं पड़ती है यह तथ्य को समझते हुए भारत के कई बैंकों ने कांटेक्ट क्लास पेमेंट की सुविधा शुरू की इसलिए एसबीआई ने और कई बैंकों ने भी कांटेक्ट लिस्ट डेबिट कार्ड की सुविधा लोगों को दी। 

Also Read: Malware ko Hindi me Kya Kehte Hai? What is Malware Called in Hindi?

कांटेक्ट क्लास कांटेक्ट डेबिट कार्ड कैसे काम करता है,

आपको बता दें कि कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड के नजदीकी फील्ड संचार के अनुसार काम करता है यह टेक्नोलॉजी एक विशेष धारा प्रसारण के आधार पर काम करती है। जिसमें टर्मिनल के पास रखकर काम कराया जाता है इसे इस्तेमाल करने के लिए ग्राहक को कार्ड को स्वाइप करने के बजाय सिर्फ कार्ड को स्वाइप मशीन के ऊपर रखकर टप करना होता है जिस में आपको पिन आवश्यकता नहीं पड़ती और कट जाते हैं.

कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड Contactless Debit Card की लिमिट 

आपको बता दें कि कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड Contactless Debit Card की लिमिट कुछ ही राशि तक ही सीमित होती है आप कुछ ही राशि तक की पैसे इससे कांटेक्टलेंस की मदद से पे कर सकते हैं उसके बाद आपको अपना पिन कार्ड यूज़ करना ही पड़ेगा पेमेंट के लिए क्योंकि भारतीय रिजर्व बैंक का कहना है कि कम पैसे आदमी बिना पिन के भी यूज़ कर सकता है लेकिन उसे ज्यादा पैसे पे करने होंगे तो उसे पिन की जरूरत पड़ेगी इससे जाहिर पड़ता है कि वह एटीएम कार्ड वही ग्राहक यूज कर रहा है. जिसने अभी पेमेंट की है इससे उसका पैसा भी बचा रहता है और उसका कोई मिस यूज भी नहीं होता है लेकिन अलग-अलग बैंकों ने अलग-अलग डेबिट कार्ड की सीमा तय की है उसके अनुसार ही आप उसका उपयोग कर सकते हैं। 

Also Read: Twitter ka Hindi me Kya Matlab Hota Hai? What is the Meaning of Twitter in Hindi?

कॉन्टैक्टलेस कार्ड का इस्तेमाल क्यों करें 

आपको बता दें कि कांटेक्ट लेंस कार्ड का उपयोग बहुत तेजी से हो रहा है विदेशों में लोग इसका उपयोग बहुत तेजी से कर रहे हैं क्योंकि वह इस पर ज्यादा विश्वास करते हैं क्योंकि क्या शोक की लेनदेन की तुलना में कॉन्टैक्टलेस कार्ड पेमेंट करना बहुत ही आसान है आप आसानी से इससे पेमेंट कर सकते हैं। 

बिना कोई पिन ओटीपी डाले कॉन्टैक्टलेस को तेज काम करने की वजह से कई ग्राहक अपना इसका इस्तेमाल खरीदारी आदि के लिए भी करते हैं इस तरह के ग्राहकों की संख्या शॉपिंग मॉल के लिए बहुत अधिक से अधिक बढ़ाई जाती है.

इसे आप ऑनलाइन इसमें एक डिजिटल चिप का उपयोग होता है जिससे जिस वजह से यह बहुत ही सुरक्षित रहता है। 

लेन-देन के समय कार्ड को खोने की संभावना बहुत कम होती है क्योंकि इस दौरान कार्ड ग्राहक के हाथ में ही रहता है अब तक कांटेक्ट लेंस कार्ड किसके था भारत में लगभग 10 लाख लोगों तक पहुंचाई जा चुकी है जिसकी मदद से लोग इसका उपयोग कर रहे हैं,

इसमें बहुत सारे बैंक शामिल है जो कि अपने ग्राहकों को कांटेक्ट डेबिट कार्ड दे रहे हैं जैसे एसबीआई पंजाब आईडीएफसी बैंक इत्यादि अपने ग्राहकों को कॉन्टैक्टलेस कार्ड दे रहे हैं.

कॉन्टैक्टलेस कार्ड के इस्तेमाल के लाभ 

आपको बता दिया आईसीआईसीआई और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया इसे अपने ग्राहकों के लिए कई दिनों से प्रयोग करने के लिए कर रही है कॉन्टैक्टलेस कार्ड डेबिट कार्ड साधारण वीजा और मास्टर कार्ड की तरह इस्तेमाल होता है। 

जैसे कि आप बिना पिन डाले पैसा आसानी से एक दूसरे को दे सकते हैं इसमें वीजा की ही तरह वीजा पी वे और मास्टर कार्ड की तरफ से मास्टर कार्ड कॉन्टैक्टलेस मिलता है रिटेलर में इसका इस्तेमाल पेमेंट के फायदा के लिए करते है. ग्राहक लोग इसे ऑनलाइन शॉपिंग कोई बिल पेमेंट इत्यादि के लिए इसका उपयोग आसानी से करते हैं। आपको बता दें कि यह साधारण डेबिट कार्ड की तुलना में 2 गुना तेजी से काम करता है इस वजह से इसकी सहायता से ट्रांजैक्शन करते समय किसी भी तरह के दो खिलाड़ी का डर नहीं रहता है.

कैसे करें अप्लाई 

यदि आप कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड पाना चाहते हैं सबसे पहले आपको अपने बैंक में जाना होगा वहां आपको एक फॉर्म फिल करना होगा जिसमें आपको ऑप्शन करना होगा कि आपको कांटेक्ट क्लास डेबिट कार्ड लेना है उसके बाद आपको अपने अकाउंट नंबर डालना होगा उसके साथ अटैच डॉक्यूमेंट जैसे कि आधार कार्ड लगाकर जमा कर दें उसके बाद 1 हफ्ते के अंदर आपका कांटेक्ट लिस्ट डेबिट कार्ड आपके घर आ जाएगा जिसके बाद आप आसानी से इसका उपयोग कर सकते हैं,

Also Read: Mutual Fund ko Hindi me Kya Kehte Hai? What is Called Mutual Fund in Hindi?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here